पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कमर्शियल प्रॉपर्टी:हिमुडा ने 60 करोड़ की प्रॉपर्टी बेचने को मांगे थे आवदेन, सिर्फ 10 करोड़ की बिकी

शिमला6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो
  • 14000 रुपए प्रति वर्ग मीटर रिजर्व प्राइज भी बना खरीदार न मिलने का कारण

हिमुडा प्रबंधन से कमर्शियल प्रॉपर्टी खरीदने के लिए लाेगाें ने कम ही दिलचस्पी दिखाई है। हिमुडा प्रबंधन ने 60 कराेड रुपए की कमर्शियल प्रॉपर्टी बेचने के लिए लाेगाें से आवेदन मांगे थे, लेकिन कम ही लाेग हिमुडा से प्रॉपर्टी खरीदने आगे आए हैं। हिमुडा प्रबंधन केवल 10 कराेड़ रुपए की ही प्रॉपर्टी ही बेच पाया है। इसमें छह कराेड़ की संपत्ति परवाणु में बिकी है।

यहां पर हिमुडा प्रबंधन ने दाे दुकाने छह कराेड़ रूपए में बेची है। इसी तरह बुदी में दाे कराेड रूपए की लागत से एक दुकान और एक इंडस्ट्रीयल प्लाॅट बिका है। कुल्लू में एक कराेड़ रुपए की लागत से दुकानें बिकी है। ऊना में 85 लाख रुपए की लागत से दाे घर बेचे गए है। इसके अलावा हिमुडा प्रबंधन ने आबकारी एवं कराधान विभाग काे चार कराेड़ रुपए की लागत से दाे हाॅल बेचे है।

प्रॉपर्टी नहीं बिकने के यह रहे कारण
हिमुडा की व्यवसायिक संपत्ति न बिकने के दाे बड़े कारण सामने आए है। पहला बड़ा कारण हिमुडा द्वारा संपर्ति के तय किया गया अधिक रिजर्व प्राइज है। हिमुडा की व्यवसायिक संपत्ति का न्यूनतम रिजर्व प्राइस 14000 रुपए प्रति वर्ग मीटर से शुरू किया है। ज्यादा रिजर्व प्राइस हाेने के कारण भी लाेग हिमुडा से प्राॅपर्टी खरीदने आगे नहीं आए है।

इससे हिमुडा काे नुकसान झेलना पड़ा है। संपत्ति न खरीदने का दूसरा बड़ा कारण जाे माना जा रहा है वह काेराेना संकटकाल के कारण पैदा हुए हालात हँ। सचिव आवासीय अक्षय सूद ने कहा कि जहां पर कमर्शियल प्रापर्टी के रिजर्व प्राइज ज्यादा है प्राइजिंग कमेटी शीघ्र उसका रिव्यू करेगी। कमेटी के अनुमोदन के बाद बढ़े हुए रिजर्व प्राइज काने कम करने पर विचार किया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें