पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Hostel Fees May Be Waived In HPU In New Session, Administration Will Send Proposal To Government

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छात्रों के लिए अच्छी खबर:नए सत्र में एचपीयू में हाॅस्टल फीस हाे सकती है माफ, सरकार काे प्रस्ताव भेजेगा प्रशासन

शिमला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एचपीयू (फाइल फोटो)। - Dainik Bhaskar
एचपीयू (फाइल फोटो)।
  • ईसी की बैठक में सरकार की वित्त कमेटी काे प्रस्ताव भेजने काे लेकर लिया निर्णय
  • हाॅस्टलाें में रहने वाले करीब 1600 छात्राें काे मिलेगा सीधा फायदा

हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी में नए सत्र से छात्राें के लिए हाॅस्टल फीस माफ हाे सकती है। अगर सरकार की ओर से मंजूरी दी जाती है ताे शुरू हाे रहे नए सत्र में काेविड के चलते छात्राें के लिए फीस माफ की जा सकती है। बीते दिनाें हुई ईसी की बैठक में इस छात्र हित के मुद्दे पर चर्चा हुई थी।

जिस पर वीसी प्राे. सिकंदर कुमार ने सरकार की वित्त कमेटी काे हाॅस्टल फीस माफी का मुद्दा भेजने की सिफारिश की थी। बीते कुछ दिनाें से छात्र संगठन लगातार विवि प्रशासन पर दबाव बना रहे हैं कि वे हाॅस्टल फीस माफ करें।

ऐसे में एचपीयू के हाॅस्टलाें में रहने वाले करीब 1600 छात्राें काे सीधा इसका फायदा मिलेगा। एचपीयू के हाॅस्टलाें में करीब 1600 स्टूडेंट रहते हैं, जिनमें 1120 छात्राएं हैं। ऐसे में अगर नए सत्र में फीस माफ हाेती है ताे छात्राें काे सीधा उसका फायदा मिलेगा। एचपीयू के वीसी प्राे. सिकंदर कुमार ने ईसी सदस्याें काे आश्वासन दिया है कि वे इस मामले काे सरकार के सामने उठाएंगे। इसके अलावा छात्राें की हर मांग काे पूरा किया जाएगा।

एक साल की एक साथ ही ली जाती है फीस
हाॅस्टल के लिए आवेदन करने वाले छात्राें से एक साथ ही एक वर्ष की फीस ले ली जाती है। करीब पांच हजार रुपए हाॅस्टल फीस रखी गई है। हालांकि, ये फीस एक वर्ष के हिसाब से ज्यादा नहीं है, लेकिन विवि में दूर-दराज क्षेत्राें के छात्र-छात्राएं पढ़ने के लिए आते हैं। आर्थिक तंगी के चलते फीस चुकाना उनके लिए मुश्किल हाे जाता है।

काेविड के चलते इस साल लाॅकडाउन भी सरकार की ओर से लगाया गया था। इस दाैरान जहां लाेगाें काे अपनी नाैकरियाें से हाथ गंवाना पड़ा हैं, वहीं कई लाेगाें का कामकाज भी ठप पड़ा हुआ। ऐसे में गरीब तबके के छात्राें काे दिक्कताें का सामना करना पड़ रहा है।

फिलहाल आवेदन लिए जा रहे, रहने काे नहीं दिए जा रहे हैं हाॅस्टल
​​​​​​​ एमएचआरडी की ओर से साफ निर्देश है कि छात्राें की भले ही एडमिशन करवा दाे, लेकिन एक साथ स्टूडेंट काे हाॅस्टल में नहीं रहने दिया जा सकता है। इस पर शिक्षा विभाग और हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी ने भी सभी काॅलेजाें काे निर्देश दिए हैं कि वे छात्राें काे अभी हाॅस्टल अलाॅट न करवाएं। जब तक नई गाइडलाइन नहीं आती है, तब तक हाॅस्टल अलाॅट न करवाएं। विवि प्रशासन ने छात्र-छात्राओं से हाॅस्टल के लिए आवेदन मांग लिए हैं।

दाे साल पहले बढ़ाई थी विवि प्रशासन ने हाॅस्टल की फीस
​​​​​​​ 2018 में हाॅस्टल फीस बढ़ाई थी। जनरल कैटेगरी के छात्रों की वर्तमान फीस पहले 3960 रुपए थी, जाे 10 फीसदी के हिसाब से 408 रुपए बढ़ने पर 4368 रुपए कर दी गई थी। इसी तरह एससी, एसटी कैटेगरी के छात्रों की फीस में 287 रुपए की बढ़ोतरी के साथ ही अब 2916 की जगह 3203 रुपए कर दी गई थी। अभी यही फीस एचपीयू के हाॅस्टलाें में लागू हैं।

रिसर्च स्काॅलर्स ने हाॅस्टल अलाॅट करवाने की फिर मांग उठाई
​​​​​​​ एचपीयू की बात करें तो यहां पर पांच सौ से अधिक रिसर्च स्कॉलर एनराेल हुए हैं। हर विभाग में एक गाइड के अंडर करीब आठ स्टूडेंट पीएचडी करते हैं। कई नौकरीपेशा भी पीएचडी करने के लिए विवि आते हैं। ऐसे में उन्हें इसके लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है। हाॅस्टल न मिलने के कारण उनके सामने रहने की दिक्कत खड़ी हाे गई है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें