पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Manali Patient Picked Up On Stretcher And Walked 15 KM People, Then Found Vehicle, Transported To Hospital

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पहाड़ियों में सफर VS Suffer:मरीज को स्ट्रैचर पर उठाकर 15 KM पैदल चले ग्रामीण, फिर वाहन मिला तो पहुंचाया अस्पताल

मनाली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लाहौल घाटी के गांव नैन गाहर निवासी टशी तंडुप को अस्पताल ले जाने के लिए स्ट्रैचर पर उठाए हुए ग्रामीण। हिमाचल के लोगों के लिए सर्दियों का मौसम ऐसे ही बीतता है। - Dainik Bhaskar
लाहौल घाटी के गांव नैन गाहर निवासी टशी तंडुप को अस्पताल ले जाने के लिए स्ट्रैचर पर उठाए हुए ग्रामीण। हिमाचल के लोगों के लिए सर्दियों का मौसम ऐसे ही बीतता है।

सर्दियों का मौसम तमाम जीव-जंतुओं और मनुष्य के लिए कई सारी दिक्कतें लेकर आता है। सबसे ज्यादा परेशानी पर्वतीय क्षेत्र के लोगों को होती है, जब किसी बीमार को अस्पताल ले जाना हो। शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश के मनाली से ऐसा ही एक मामला सामने आया है। लोगों ने एक मरीज को स्ट्रैचर पर उठाकर पूरे 15 किलोमीटर का सफर पैदल ही तय किया, तब कहीं उन्हें वाहन मिला और फिर उसे लेकर अस्पताल पहुंचे।

मामला लाहौल घाटी के गांव नैन गाहर का है। यहां का टशी तंडुप नामक व्यक्ति अचानक बीमार हो गया। मुरिग-चौखंग-नैन गाहर संपर्क सड़क बर्फबारी के कारण अवरुद्ध होने के कारण ग्रामीणों ने उसे 15 किलोमीटर स्ट्रैचर पर उठाकर मुख्य सड़क तक पहुंचाया। यहां से अटल टनल के रास्ते रोहतांग होते हुए कुल्लू स्थित क्षेत्रीय अस्पताल पहुंचाया गया। दूसरी ओर लाहौल घाटी में स्वास्थ्य सुविधाएं न मिलने पर लोगों में रोष है। ग्रामीण दोरजे, अंगरूप, अमन व पलजोर का कहना है कि अटल टनल से सुविधा तो मिली है, लेकिन भारी बर्फबारी के हालात पहले जैसे ही कष्टदायक हैं। जब तक तिंदी, मयाडनाला, नैन गाहर और छीका रारिक जैसे गांवों में स्वास्थ्य सुविधाएं सुदृढ़ नहीं की जाती, तब तक सर्दियां कष्टदायक ही रहेंगी। यह ग्रामीणों की हिम्मत है कि नैन गाहर के टशी को 15 किलोमीटर बर्फ पर चलकर मुख्य सड़क तक पहुंचा दिया। उन्होंने बताया कि जनजातीय इलाके के लोगों को सर्दियां आते ही सरकार उनके हाल पर छोड़ देती है। नैन गाहर में स्वास्थ्य उपकेंद्र में अरसे से ताला लटका है। दूरभाष की सुविधा से भी क्षेत्र महरूम है। लोक निर्माण के अधिकारियों को सड़क से बर्फ हटाने को कहा था, लेकिन अभी कोई पहल नहीं हुई है।

उधर, मुख्य चिकित्सा अधिकारी लाहौल-स्पीति डॉ. पलजोर ने बताया कि स्वास्थ्य उपकेंद्र नैन गाहर में स्वास्थ्य कर्मी तैनात है। घाटी के दूर-दराज के क्षेत्रों में बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने का प्रयास किया जा रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

और पढ़ें