कोविड19:  एसबीआई की मैहतपुर व टाहलीवाल ब्रांच सील,काेविड सेंटर भेजा संक्रमित कर्मी,कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग में जुटी पुलिस

ऊना2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डीसी संदीप कुमार ने कहा कि बैंक कर्मी के कॉन्टेक्ट में आए लोगों की ट्रेसिंग जारी है। उन्होंने कहा कि एहतियात के तौर पर बैंक ब्रांच को सील कर दिया गया है। साथ ही उसे सैनिटाइज कराया गया है। दो तीन बार फिर बैंक को सैनिटाइज किया जाएगा। - Dainik Bhaskar
डीसी संदीप कुमार ने कहा कि बैंक कर्मी के कॉन्टेक्ट में आए लोगों की ट्रेसिंग जारी है। उन्होंने कहा कि एहतियात के तौर पर बैंक ब्रांच को सील कर दिया गया है। साथ ही उसे सैनिटाइज कराया गया है। दो तीन बार फिर बैंक को सैनिटाइज किया जाएगा।
  • मैनेजर सहित 20 कर्मचारी किए होम क्वारैंटाइन, ब्रांच ऑफिस किए सैनिटाइज
  • पिछले एक सप्ताह में संक्रमित बैंक कर्मचारी के संपर्क में आए लोगों का पता लगाया जा रहा है

ऊना के तहत मैहतपुर स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच के एक कर्मचारी के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद पुलिस और प्रशासन उसके संपर्क में आए लोगों को ट्रेस करने में लगा है। फिलवक्त मैहतपुर ब्रांच को एहतियात के तौर पर 48 घंटे के लिए सील कर दिया गया है। इसके अलावा एसबीआई की टाहलीवाल ब्रांच को भी बंद कर दिया है। क्योंकि इस ब्रांच की मैनेजर भी कोरोना संक्रमित कर्मचारी के संपर्क में रही है। जिसके चलते मैनेजर सहित मैहतपुर ब्रांच के 16 और टाहलीवाल ब्रांच के चार कर्मचारियों को होम क्वारैंटाइन में भेज दिया गया है।

पिछले एक सप्ताह में संक्रमित बैंक कर्मचारी के संपर्क में कौन कौन लोग आए हैं,उनका पता लगाया जा रहा है। मंगलवार को बैंक की ब्रांच को सैनिटाइज कर दिया गया है। काबिलेगौर है कि सोमवार रात को एसबीआई मैहतपुर का एक कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाया गया था। जो कुछ दिन पहले ही अपने घर पटियाला (पंजाब) से वापिस ड्यूटी पर लौटा था। वह भटोली में किराए के क्वार्टर में रह रहा है। तीन दिन पहले हेल्थ विभाग ने उसका कोरोना टेस्ट के लिए सैंपल लिया था,जिसे जांच के लिए टांडा मेडिकल कॉलेज टांडा भेजा गया था। जहां से उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है।

सोमवार देर रात बैंक कर्मचारी को कोविड सेंटर खड्‌ड शिफ्ट कर दिया गया है।उधर, डीसी संदीप कुमार ने कहा कि बैंक कर्मी के कॉन्टेक्ट में आए लोगों की ट्रेसिंग जारी है। उन्होंने कहा कि एहतियात के तौर पर बैंक ब्रांच को सील कर दिया गया है। साथ ही उसे सैनिटाइज कराया गया है। दो तीन बार फिर बैंक को सैनिटाइज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर बैंक स्टाफ और ग्राहकों ने कोविड प्रोटोकॉल फॉलो किया होगा,तो उन्हें भयभीत होने की जरूरत नहीं है।