• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Need To Increase Facilities For Devotees In Religious Places Of Himachal, This Will Increase Both Devotees And Employment Opportunities

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा:हिमाचल के धार्मिक स्थलों में श्रद्धालुओं के लिए सुविधाएं बढ़ाने की आवश्यकता, इससे श्रद्धालु और रोजगार के अवसर दोनों बढ़ेंगे

ज्वालामुखी23 दिन पहलेलेखक: कपिल शर्मा
  • कॉपी लिंक
ज्वालामुखी मंदिर के गर्भगृह में दर्शन करते हुए मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री। - Dainik Bhaskar
ज्वालामुखी मंदिर के गर्भगृह में दर्शन करते हुए मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केदारनाथ मंदिर में किए जा रहे विभिन्न परियोजनाओं के शिलान्यास एवं उद्घाटन कार्यक्रम में कांगड़ा जिले के शक्तिपीठ ज्वालामुखी मंदिर को भी वर्चुअली जोड़ा गया। ज्वालामुखी मंदिर से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, उद्योग एवं परिवहन मंत्री बिक्रम ठाकुर, सांसद किशन कपूर, राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला सहित कई भाजपा विधायक, प्रशासनिक अधिकारी व साधु संत मौजूद रहे।

इस मौके पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के मंदिरों में बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए और भी ज्यादा व्यवस्थाएं करने की आवश्यकता है। ताकि यहां पर देश के बड़े मंदिरों की तर्ज पर ही श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ोतरी हो। स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर मिल सकें। इससे पूर्व उन्होंने मां ज्वालामुखी मंदिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केदारनाथ में हुए कार्यक्रम को वर्चुअल माध्यम से देखा।

कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि हमारे देश की संस्कृति धरोहर को सहेज कर रखने में आदि शंकराचार्य जैसे विभूतियों के काफी योगदान हैं। उन्होंने कहा कि वर्ष 2013 में जब केदारनाथ में त्रासदी आई थी। उस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे। उस दौरान उन्होंने दिल खोलकर केदारनाथ मंदिर और क्षेत्र की जनता की सहायता के लिए हाथ बढ़ाए थे।आज संयोग की बात है कि प्रधानमंत्री के रूप में उन्हें आज आदि शंकराचार्य की मूर्ति और मंदिर के अनावरण करने का मौका मिला है।

उन्होंने कहा कि आधुनिक तरीके से केदारनाथ मंदिर व क्षेत्र को विकसित किया जा रहा है। बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। वहां के लोग आर्थिक रूप से सुदृढ़ होते जा रहे हैं। श्रद्धालुओं की संख्या में भी वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के मंदिरों में भी सरकार प्रयास करेगी की व्यवस्थाओं को बढ़ाया जाए। रेलवे और हवाई नेटवर्क से मंदिरों को जोड़ा जाए। ताकि बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को यहां सुविधा मिल सके।

प्रदेश के मंदिरों का कायाकल्प करे जयराम सरकार, केंद्र सरकार भी करेगी मदद
केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण व खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने भी इस कार्यक्रम में शिरकत की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केदारनाथ धाम में चल रहे कार्यक्रम को वर्चुअल माध्यम से देखा और मां ज्वालामुखी का आशीर्वाद प्राप्त किया। अनुराग ठाकुर ने कहा की प्रधानमंत्री ने चार धाम की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं के लिए सुविधाएं बढ़ाई हैं। जिसका नतीजा सामने है कि उत्तराखंड देवभूमि में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिला है।

आज भारत दुनिया में अपनी पहचान बना रहा है। हमारे देश की संस्कृति सभ्यता को विश्व के कई लोग अपना रहे हैं। उन्होंने प्रदेश सरकार से आग्रह किया है कि प्रदेश के मंदिरों को और भी भव्य तरीके से विकसित किया जाए। यहां प्रदेश के मंदिरों का कायाकल्प किया जाए। ताकि देश विदेश के श्रद्धालुओं को यहां आकर्षित किया जा सके। सरकार व समाज इस ओर दो कदम बढ़ाएं तो दो कदम केंद्र सरकार भी बढ़ाएगी।

हिमाचल प्रदेश के मंदिरों को विश्व के मानचित्र पर ख्याति प्राप्त होगी। यहां के लोगों का रोजगार बढ़ेगा व लोगों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। इस मौके पर प्रदेश भाजपा प्रभारी अविनाश राय खन्ना, संगठन महामंत्री पवन राणा, उद्योग एवं परिवहन मंत्री बिक्रम ठाकुर, योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला, पूर्व मंत्री रविंद्र सिंह रवि, मुख्यमंत्री के सलाहकार त्रिलोक जमवाल, गगरेट के विधायक राजेश कुमार, ज्वाली के विधायक अर्जुन सिंह, कांगड़ा चम्बा के सांसद किशन कपूर, जिला भाजपा अध्यक्ष संजीव शर्मा, जिलाधीश कांगड़ा डॉ निपुण जिंदल, एसपी कांगड़ा खुशहाल शर्मा, एसडीएम ज्वालामुखी धनवीर ठाकुर, डीएसपी चंद्रपाल सिंह उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...