पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना से जंग:अब डीडीयू में करवाएंगे कोरोना पॉजिटिव महिला की डिलीवरी

हिमाचल6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • केएनएच में बाकी महिलाओं को नहीं रहेगा संक्रमण का डर
Advertisement
Advertisement

काेराेना संक्रमित और कंटेनमेंट जाेन से रेफर गर्भवती महिलाओं का प्रसव अब केएनएच में नही बल्कि डीडीयू अस्पताल में हाेगा। इन महिलाओं काे सीधे डीडीयू लाया जाएगा। यहां पर गायनी के डाॅक्टर इनकी जांच करेंगे, अगर गर्भवती महिला की हालत गंभीर हुई और उसे तुरंत ओटी की जरूरत हाेगी ताे इसके लिए केएनएच से टीम डीडीयू पहुंचेगी ना कि महिला काे केएनएच शिफ्ट करेंगे। विभाग ने इसे लेकर आदेश जारी कर दिए हैं। केएनएच अस्पताल में भी इसके लिए टीम तैयार रखने काे कहा गया है, वहीं डीडीयू अस्पताल प्रबंधन काे भी आदेश दिए गए हैं कि वह संक्रमित गर्भवती महिलाओं का इलाज डीडीयू में ही करे, अगर किसी महिला की हालत गंभीर हाेगी ताे जरूरत पड़ने पर केएनएच की टीम काे भी बुलाएं। ऐसे में अब जाे भी संक्रमित महिला का प्रसव हाेगा वह डीडीयू में ही करवाया जाएगा। अभी तक गर्भवती महिलाओं काे केएनएच अस्पताल में ही प्रसव करवाया जा रहा था। यहां पर अभी तक कई संदिग्ध महिलाओं का प्रसव करवाया जा चुका है, जिनकी रिपाेर्ट बाद में आती थी। रिपोर्ट आने तक यहां पर डाॅक्टर और अन्य स्टाफ को क्वारेंटाइन करना पड़ता था। इसी तरह अगर काेई काेराेना पाॅजिटिव महिला यहां पर आ जाती है ताे इससे अन्य गर्भवती महिलाओं में संक्रमण फैलने का भी डर बना रहता, क्याेंकि काेराेना का संक्रमण सबसे जल्दी गर्भवती महिलाओं में फैलता है। मगर अब यह परेशानी नहीं रहेगी क्याेंकि संक्रमित के साथ कंटेनमेंट जाेन से आने वाली संदिग्ध महिलाओं काे डीडीयू में ही रखा जाएगा। इससे केएनएच में अन्य महिलाओं के संक्रमित हाेने का डर नहीं रहेगा।

4 जिले शिमला, सोलन, सिरमौर, किन्नौर का काेविड सेंटर है डीडीयू

डीडीयू अस्पताल काे सरकार ने चार जिला का काेविड केयर सेंटर घाेषित किया है। इसमें शिमला, साेलन, सिरमाैर अाैर किन्नाैर जिला के काेराेना संक्रमित राेगियाें काे रखा जाता है। साेलन और सिरमाैर जिला में सबसे ज्यादा काेराेना के मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में यहां से अभी तक कई संदिग्ध महिलाओं काे प्रसव के लिए शिमला रेफर किया गया है। जिनका इलाज अब तक केएनएच में करना मजबूरी थी, मगर अब यह इलाज डीडीयू में ही हाेगा।

जरूरत पड़ी तो केएनएच से आएगी टीम डीडीयू अस्पताल दाे सप्ताह पहले एक काेराेना पाॅजिटिव महिला का प्रसव भी करवा चुका है। साेलन के बद्दी से रेफर इस महिला की हालत काफी गंभीर थी। सुबह के समय यह डीडीयू लाई गई थी, दाेपहर बाद तक डाॅक्टराें ने सभी टेस्ट किए। शाम पांच बजे महिला का अल्ट्रासाउंड करवाया ताे पता चला की बच्चे की धड़कन नहीं चल रही। ऐसे में यहां पर डाॅक्टराें ने तुरंत महिला का ऑपरेशन किया था हालांकि बच्चे की जान नहीं बच पाई मगर मां काे बचा लिया गया था। अब डीडीयू में जरूरत पड़ी तो केएनएच से भी डॉक्टर्स की टीम को गर्भवती के इलाज के लिए बुलाया जाएगा।

डीडीयू में नहीं हाेता गर्भवती का इलाज काेविड केयर सेंटर बनाने के बाद डीडीयू अस्पताल में बीते पांच माह से मरीजाें का इलाज बंद है। यहां पर केवल काेराेना पेशेंट ही रखे जा रहे हैं। यहां तक की गर्भवती महिलाओं काे भी यहां से केएनएच ही भेजा जाता था। वहां पर डिलीवरी हाेने के बाद वापस डीडीयू में महिलाओं काे लाया जाता था। मगर अब यहीं पर गर्भवती महिलाओं काे पूरा इलाज मिलेगा। केएनएच में महिलाओं को मिलने वाली सारी सुविधाएं यहां जुटा ली गई हैं ताकि किसी तरह को कोई दिक्कत न आए। डीडीयू के कोविड सेंटर बनने के बाद आम लोगों को मिलने वाला इलाज भी अब यहां नहीं होता।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement