पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • People Coming To The State From 20 Big Cities Of The Country Will Be Institutional Quarantined, Only After Recovering They Will Be Able To Go Home

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना इफेक्ट:देश के 20 बड़े शहरों से प्रदेश में आने वाले लोगों को किया जाएगा इंस्टीच्यूशनल क्वारेंटाइन, ठीक होने के बाद ही वे घर जा सकेंगे

शिमला10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
देवभूमि के नाम से जाने जाते हिमाचल में आने वाले लोगों को पहले क्वारेंटाइन किया जाएगा,उसके बाद वे अपने घर जा सकेंगे। फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
देवभूमि के नाम से जाने जाते हिमाचल में आने वाले लोगों को पहले क्वारेंटाइन किया जाएगा,उसके बाद वे अपने घर जा सकेंगे। फाइल फोटो
  • प्रदेश सरकार की ओर से काेरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए आने वालों पर सख्ती की जा रही
  • दिल्ली के सभी जिलों को अति संवेदनशील की लिस्ट में डाला,कोविड रेजिस्ट्रेशन करवाकर एक सप्ताह में 65 हजार से अधिक लोग आए

प्रदेश में जुलाई माह में जिस गति से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे है। ऐसे में सरकार की ओर से प्रदेश में ई-कोविड रेजिस्ट्रेशन करवा कर आने वाले लोगों पर और निगरानी बढ़ा दी गई है। सरकार की ओर से पहले देश के 13 स्थानों से प्रदेश में आने वाले लोगों को संस्थागत क्वारेंटाइन किया जाता था। अब सरकार ने देश के 20 बड़े शहरों व जिलों से आने वाले लोगों के लिए इंस्टीच्यूशनल क्वारेंटाइन जरूरी कर दिया गया है।

दिल्ली के सभी जिले अति संवेदनशील

स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आरडी धीमान ने कहा कि दिल्ली के सभी जिले अति संवेदनशील हैं। इसके अलावा मुंबई, चेन्नई, ठाणे, पुणे, पलगहार, रायगढ़, नासिक, हैदराबाद, तेलंगाना, अमदाबाद- गुजरात, बेंगलुरू शहरी, काेलकत्ता, औरंगाबाद, चैनगलपट्टू, सूरत, गुरुग्राम, थिरूवलूवर, रांगा रेड्डी, मदुरई, फरीदाबाद शामिल है। यहां से आने वाले हर व्यक्ति काे सात दिन क्वारेंटाइन में रहना हाेगा व उसकी काेविड जांच हाेगी। जांच रिपाेर्ट आने के बाद उसे घर भेजा जाएगा। घर जाने के बाद भी उसकी 14 दिनाें तक निगरानी की जाएगी। अगर काेराेना के लक्षण मिले ताे उसे अस्पताल में भर्ती किया जाएगा।

ई-कोविड रेजिस्ट्रेशन करवा कर आए 65 हजार से ज्यादा

प्रदेश में ई-काेविड रेजिस्ट्रेशन करवाकर एक हफ्ते में 65 हजार 750 हिमाचली आ चुके है। कांगड़ा जिले में 16 हजार 136 लोग, ऊना में 13 हजार 589, साेलन में 10 हजार 300 लाेग बाहर से यहां पहुंचे है।

पाैने दाे लाख लाेग वापस घर आना चाहते हैं

काेराेना दाैरान प्रदेश के बाहर फंसे पाैने दाे लाख लाेग वापस अपने घर आना चाहते है। राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई ई-काेविड रजिस्ट्रेशन सेवा में देश के काेने- काेने में फंसे एक लाख 73 हजार 834 लाेगाें ने ई-काेविड रजिस्ट्रेशन सेवा में प्रदेश वापस आने के लिए अपना पंजीकरण किया है। इसमें 735 पर्यटक भी शामिल है। साेलन जिला के लिए सबसे ज्यादा 39 हजार 579 लाेगाें ने पंजीकरण किया है। कांगड़ा दूसरे नंबर पर है। यहां पर 36 हजार 549 लाेगाें ने आने के लिए पंजीकरण किया है। ऊना में 28 हजार 949, सिरमाैर में 17 हजार 664, शिमला में 16 हजार 850 लाेग वापस आना चाहते हैं। मंडी में 8547, कुल्लू में 4649, किन्नाैर में 830, हमीरपुर में 9066, चंबा में 4284, बिलासपुर में 6553 और लाहाैल स्पीति जिला के लिए भी 830 लाेगाें ने रजिस्ट्रेशन की है जाे यहां आना चाहते है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें