पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विदेशी परिंदों की मौत:हिमाचल प्रदेश का पौंग बांध पर्यटकों के लिए बंद; वन्‍य प्राणी विभाग ने 20 सैंपल भेजे जालंधर और भोपाल

धर्मशाला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पौंग बांध के साथ लगते सिद्धाथा क्षेत्र में तीन दिन में करीब एक हजार पक्षी दम तोड़ चुके हैं। - Dainik Bhaskar
पौंग बांध के साथ लगते सिद्धाथा क्षेत्र में तीन दिन में करीब एक हजार पक्षी दम तोड़ चुके हैं।
  • बांध के चारों ओर 10 किलोमीटर के क्षेत्र में कोई भी गतिविधि नहीं हो पाएगी
  • पर्यटक नहीं आ पाएंगे, जब तक विदेशी परिंदों के मरने के कारण पता नहीं चलता

पौंग बांध में विदेशी परिंदों की कुछ दिनों से हो रही लगातार मौतों का रहस्य अभी भी बरकरार है। वन्‍य प्राणी विभाग ने पौंग बांध में पर्यटकों के आने पर रोक लगा दी है। पौंग बांध के चारों ओर 10 किलोमीटर के क्षेत्र में कोई भी गतिविधि नहीं हो पाएगी। यहां पर तब तक कोई पर्यटक नहीं आ पाएंगे जब तक विदेशी परिंदों के मरने के कारण पता नहीं चलता। पौंग बांध के साथ लगते सिद्धाथा क्षेत्र में तीन दिन में करीब एक हजार पक्षी दम तोड़ चुके हैं। इसके बाद वन्य प्राणी विभाग ने एहतियात के तौर पर पौंग बांध को पर्यटक गतिविधियों के लिए बंद कर दिया है।

इन विदेशी परिंदों की लगातार मौतों से पौंग बांध किनारे बसे लोगों की चिंता भी बढ़ रही है। मृत परिंदों के करीब 20 सैंपल जालंधर और भोपाल के बरेली लैब में जांच के लिए भेजे गए हैं। अभी विभाग के विशेषज्ञ यही मानकर चल रहे हैं कि इन पक्षियों को किसी बीमारी ने चपेट में लिया होगा। असली पता सैंपल की जांच रिपोर्ट के बाद ही लग पाएगा। मृत परिंदों के जालंधर को तीन और बरेली लैब को 17 सैंपल भेजे हैं। सैंपल तीन सदस्य पशु चिकित्सकों की टीम ने एकत्रित किए हैं। मृत परिंदों के लीवर समेत विभिन्न अंगों के सैंपल लिए गए हैं। मृत परिंदों में बार हेडिडगूज, ग्रे लेग गूज, कॉमन पोचार्ड प्रजाति के पक्षी शामिल हैं, जिनके सैंपल भरे गए हैं।

ट्रांस हिमालयन से आते हैं विदेशी मेहमान

अंतरराष्ट्रीय रामसर वेटलैंड पौंग बांध में आने वाले विदेशी परिंदें ट्रांस हिमालयन से आते हैं। सर्दियों के मौसम में हिमालयन के तहत ऊंचाई वाले क्षेत्रों की झीलें जमना शुरू हो जाती हैं। ऐसे में विभिन्न देशों के यह पक्षी पौंग झील की ओर रुख करते हैं। यहां जनवरी के अंत या फरवरी की शुरुआत में होने वाली वार्षिक गणना के दौरान हजारों प्रजातियों के लाख से भी ज्यादा परिंदें दर्ज किए जाते हैं।

वन्यजीव प्राणी विभाग के डीएफओ राहुल रहाणे ने बताया कि विदेशी परिंदों की मौत के आंकड़े जमा किए जा रहे हैं। विभाग पूरी मुस्तैदी से इनके बचाव के लिए लगा हुआ है। रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जाएगा। फिलहाल झील में पर्यटकों के आने पर रोक लगा दी है। झील में विभाग के अधिकारी दिन-रात कार्य कर रहे हैं।

वन्‍य प्राणी विभाग धर्मशाला मुख्य अरण्यपाल उपासना पटियाल ने बताया कि पौंग बांध के साथ लगते सिद्धाथा क्षेत्र में अचानक मर रहे विदेशी परिंदों का आंकड़ा एक हजार पहुंच गया है। इसे देख झील के चारों ओर 10 किलोमीटर क्षेत्र में सभी प्रकार की गतिविधियों पर रोक लगा दी है। पक्षियों की मौत के कारण जानने के लिए सैंपल भेजे गए हैं। सैंपल रिपोर्ट आने के बाद ही अगला कदम उठाया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

और पढ़ें