पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • The Environment Department Approved Construction Of Central University In Dehra, Dharamshala

सेंट्रल यूनिवर्सिटी की राह हुई आसान:देहरा में निर्माण के लिए 81.79 हेक्टेयर भूमि को पर्यावरण विभाग की मंजूरी मिली, अब अधिकार पत्र सौंपेगा प्रशासन

धर्मशाला7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिमाचल प्रदेश के छात्रों को राज्य में ही गुणवत्तापूर्ण उच्च शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए सेंट्रल यूनिवर्सिटी की स्थापना की जा रही है। - Dainik Bhaskar
हिमाचल प्रदेश के छात्रों को राज्य में ही गुणवत्तापूर्ण उच्च शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए सेंट्रल यूनिवर्सिटी की स्थापना की जा रही है।

हिमाचल प्रदेश के छात्रों को राज्य में ही गुणवत्तापूर्ण उच्च शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए सेंट्रल यूनिवर्सिटी की स्थापना के लिए भाजपा वर्ष 2010 से ही प्रयासरत थी, लेकिन अफसरशाही की लेटलतीफी के कारण सेंट्रल यूनिवर्सिटी हिमाचल प्रदेश की योजना पर्यावरण मंजूरी के लिए अटकी हुई थी, जो अब मिल चुकी है। देहरा के व्यास कैंपस के लिए के निर्माण के लिए 81.79 हेक्टेयर भूमि सेंट्रल यूनिवर्सिटी प्रशासन के नाम होगी। इन दिनों जिला प्रशासन राजस्व संबंधित कार्य पूरा कर रहा है। सेंट्रल यूनिवर्सिटी को संबंधित जमीन पर कब्जे का अधिकार देगा।

सेंट्रल यूनिवर्सिटी परिसर देहरा निर्माण व केंद्रीय विवि की जमीन से संबंधित समस्याओं के समाधान को लेकर खुद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर प्रशासनिक अधिकारियों की दो बार बैठक ले चुके हैं। अनुराग ठाकुर के साथ-साथ बैठक में कांगड़ा-चंबा के सांसद किशन कपूर भी मौजूद रहे हैं। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री की इच्छा शक्ति व लगातार फालोअप के कारण अब देहरा में सेंट्रल यूनिवर्सिटी परिसर का रास्ता साफ होता दिख रहा है। 14 जून को जिला प्रशासन सेंट्रल यूनिवर्सिटी को देहरा में चयनित वन भूमि का (सर्टिफिकेट ऑफ पोजेशन) अधिकार पत्र सौंपेगा। इस मौके पर प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहेंगे।

यह प्रपत्र मिलने के साथ ही सेंट्रल यूनिवर्सिटी देहरा परिसर में निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा जिसका लंबे समय से इंतजार किया जा रहा था। सेंट्रल यूनिवर्सिटी परिसर देहरा में बनने व विभिन्न विषयों की पढ़ाई यहां पर चलने के कारण यहां पर विकास गति पकड़ेगा। धर्मशाला और देहरा में सेंट्रल यूनिवर्सिटी कैंपस के निर्माण पर लगभग 500 करोड़ रुपए का निवेश किया जाना है, लेकिन जदरांगल की भूमि की वन मंजूरी न मिलने के कारण यह मामला अभी तक अटका हुआ है। सेंट्रल यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार हेमराज ने का कहा कि 14 जून को सेंट्रल यूनिवर्सिटी को भूमि संबंधित पत्र सौंपेगा। इसके बाद जल्द निर्माण कार्य शुरू करवा दिए जाएंगे।

20 जनवरी 2009 को मिली थी स्वीकृति

सेंट्रल यूनिवर्सिटी का 70 फीसदी निर्माण देहरा में तो 30 फीसदी निर्माण धर्मशाला में होगा। सेंट्रल यूनिवर्सिटी का मुख्यालय धर्मशाला में होगा। सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दो परिसर देहरा और धर्मशाला में होंगे। दोनों स्थान हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला में स्थित हैं। सेंट्रल यूनिवर्सिटी निर्माण की स्वीकृति 20 जनवरी 2009 को मिली थी तथा इसके प्रस्तावित भवन निर्माण के लिए 400 करोड़ रुपए की राशि भी आबंटित की गई, लेकिन इसका निर्माण केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय मंजूरी के चलते फंस गया था। वर्ष 2009-10 केंद्र में यूपीए की सरकार थी। उस समय केंद्रीय भूमि चयन समिति ने जिला कांगड़ा का विस्तृत दौरा किया था। बैजनाथ से इंदौरा तक और धर्मशाला से लेकर कलोहा तक चयन समिति ने भूमि का निरीक्षण करके रिपोर्ट सब्मिट की थी। जिसमें तत्कालीन केंद्र सरकार ने अधिसूचना जारी करके स्पष्ट किया था कि सेंट्रल यूनिवर्सिटी का 70 फीसदी निर्माण देहरा में ब्यास कैंपस और 30 फीसदी निर्माण धर्मशाला में धौलाधार कैंपस के रूप में किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...