• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Union Defense Secretary Ajay Kumar Inspects Atal Rohtang Tunnel, PM Will Be Welcomed In The Traditional Way

उद्घाटन की तैयारी:केंद्रीय रक्षा सचिव अजय कुमार ने किया अटल रोहतांग टनल का निरीक्षण, पीएम का परंपरागत तरीके से स्वागत किया जाएगा

कुल्लू2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्रीय रक्षा सचिव अजय कुमार ने अटल टनल रोहतांग का निरीक्षण किया। - Dainik Bhaskar
केंद्रीय रक्षा सचिव अजय कुमार ने अटल टनल रोहतांग का निरीक्षण किया।
  • तीन अक्तूबर को होने बाले उद्घाटन समारोह की तैयारियों का जायजा भी लिया
  • अधिकारियों को सुरक्षा के लिहाज से दिए उचित दिशा निर्देश

केंद्रीय रक्षा सचिव अजय कुमार ने अटल टनल रोहतांग का निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ डीजीबीआर लेफ्टिनेंट जनरल हरपाल सिंह, संयुक्त सचिव बीआरओ और अटल रोहतांग टनल परियोजना के चीफ इंजीनियर केपी पुरूषोत्मन भी मौजूद रहे।

लिहाजा रक्षा सचिव ने गुरूवार को टनल के हर कार्य का निरीक्षण किया और 3 अक्तूबर को देश के प्रधानमंत्री के प्रस्तावित उदघाटन कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया और समीक्षा भी की। उन्होंने इस दौरान अधिकारियों को उदघाटन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था और अन्य दिशा निर्देश जारी किए। जबकि उन्होंने इस दौरान कुल्लू और जनजातीय जिला लाहौल स्पीति के स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों के साथ भी रूबरू होकर कार्यक्रम की फीडबैक और तैयारियों को लेकर रिपोर्ट ली।

उन्होंने इस दौरान अधिकारियों को उचित दिशा निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा कि अटल टनल उदघाटन के लिए पूरी तरह से तैयार है। रक्षा सचिव ने कार्यों का निरीक्षण करने के बाद इस टनल को उत्कृष्ट इंजीनियरिंग चमत्कार की संज्ञा देते हुए सीमा सड़क संगठन को बधाई दी। उन्होंने इस परियोजना के भविष्य में सुधार और सुधार के लिए अपने सुझाव भी दिए। उन्होंने इस दौरान कहा कि इस टनल से मनाली लेह के बीच की दूरी 46 किलोमीटर कम होगी। इससे यह टनल लाहौल घाटी के लोगों को 12 महीने शेष दुनियां से जोड़े रखने के अलावा लेह की तरफ सुरक्षा बलों की कनैक्टिविटी में मदद करेगी।

परंपरागत तरीके से प्रधानमंत्री के स्वागत की तैयारियां

जयराम ठाकुर अटल रोहतांग टनल उदघाटन को लेकर प्रधानमंत्री के प्रस्तावित दौरे के चलते मनाली में अधिकारियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि अटल टनल रोहतांग के निर्माण से देश की सुरक्षा व्यवस्था और अधिक सुदृढ़ होगी, जिससे वर्षभर इस महत्वपूर्ण सीमावर्ती क्षेत्र में आवागमन की सुविधा उपलब्ध रहेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रस्तावित दौरे के दौरान उनका पारंपरिक तरीके से स्वागत किया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस दौरान कोविड-19 से संबंधित सभी मानव संचालन प्रक्रियाओं का ध्यान रखा जाए और इस संबंध में किसी भी तरह की लापरवाही न बरती जाए।

मुख्यमंत्री ने ये भी आदेश दिए हैं कि प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए जहां लोग खड़े हों, वहां सामाजिक दूरी सुनिश्चित बनाएं। उन्होंने कहा कि इस आयोजन को प्रदेश के कोने-कोने तक कार्यक्रम का सजीव प्रसारण भी किया जाएगा। इसके लिए सभी जिला मुख्यालयों पर वीडियो स्क्रीनें लगाई जाएंगी, जहां से लोग कार्यक्रम देख सकेंगे।

खबरें और भी हैं...