कोरोना वायरस / हमीरपुर: जिले में अब प्राइमरी और सेकंडरी कॉन्टेक्ट पर्सन भी आने लगे पॉजिटिव

X

  • बाहरी राज्यों से पहुंचे कई लोग होम क्वारेंटाइन के बाद बीमारी की चपेट में

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

हमीरपुर. (अश्विनी वालिया) कोरोनावायरस कोविड-19 के मरीजों का लगातार जिले में बढ़ रहा आंकड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालांकि जो भी लोग पॉजिटिव आ रहे हैं,अधिकांश बाहरी राज्य से ही यहां पहुंचे हैं। लेकिन स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों पर नजर डालें तो हैरान करने वाली एक बात यह भी सामने आई है की इन लोगों के संपर्क में आए प्राइमरी और सेकेंडरी पर्सन अब पॉजिटिव आने लगे हैं, यह अधिकांश मरीजों के परिजन ही हैं।  ऐसे एक दर्जन से ज्यादा लोग अब तक सामने आ चुके हैं जिन्हें उपचार के लिए डेडिकेटेड केयर सेंटर में भेज दिया गया है।

यही नहीं कुछ ऐसे बाहरी राज्यों से पहुंचे लोग भी पॉजिटिव पाए गए हैं जो होम क्वॉरेंटाइन पर रखे गए थे। ऐसे में सवाल यह भी उठ रहा है कि प्राइमरी संपर्क के लोग अधिकांश उनके परिजन ही है उनके आगे संपर्क में आने वाले यदि पॉजिटिव केस सामने आए तो यह विभाग के लिए समस्या भी बन सकता है। माना यह जा रहा है कि कई परिवार ऐसे हैं जहां घरों में कमरों की कमी और शौचालयों की कमी के कारण या सोशल डिस्टेंसिंग से लेकर घरों में मास्क तक लगाने के नियम फॉलो न करने के कारण यह प्राइमरी कॉन्टैक्ट पर्सन पॉजिटिव पाए जा रहे हैं।

हालांकि विभाग की ओर से टीमों को इनकी प्रॉपर मॉनिटरिंग के लिए तैनात तो किया गया है लेकिन कई परिवार जिस तरह ऐसे लोगों के पॉजिटिव आने का आंकड़ा बढ़ रहा है उससे साफ जाहिर है कि वह नियमों की अनदेखी कर रहे हैं। सुजानपुर के बैरी क्षेत्र का  17 वर्षीय युवक एक महिला जो पॉजिटिव पाई गई थी उसके प्राइमरी संपर्क में आने के बाद ही पॉजिटिव पाया गया है। इसके अलावा भी और कुछ मरीज जो नए पॉजिटिव आए हैं वह प्राइमरी संपर्क में आने के बाद ही इस बीमारी की चपेट में आए हैं।

यही नहीं बीते दिनों गलोड क्षेत्र के  51 वर्षीय महिला जो पॉजिटिव पाई गई थी उसका पति हृदय रोग का मरीज था यह पहले इंस्टीट्यूशनल क्वॉरेंटाइन और बाद में होम क्वॉरेंटाइन पर थी। भोरंज क्षेत्र के लगमनवीं से एक 35 वर्षीय व्यक्ति जो चंडीगढ़ से पहुंचे थे वह भी गृह संगरोध में थे। इसके अलावा भी कुछ और मरीज जो पॉजिटिव पाए गए हैं इंस्टीट्यूशनल के बाद होम क्वॉरेंटाइन पर थे। सीएमओ डॉ.अर्चना सोनी का कहना है कि लोगों को जो होम क्वॉरेंटाइन पर हैं उनसे सोशल डिस्टेंसिंग रखने से लेकर दूसरे नियमों के बारे में परिजनों को बार बार अवगत करवाया जा रहा है।

जितने ठीक उतने ही एक्टिव केस

वैसे अब तक हमीरपुर जिला में 238 पॉजिटिव के सामने आ चुके हैं जिनमें हालांकि तेजी से 120 लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं लेकिन इतने ही अभी तक एक्टिव केस भी हैं।स्वास्थ्य विभाग की ओर से तैयार आंकड़ों के मुताबिक बीते रोज तक जो 10 नए मामले सामने आए थे उनमें भी जो 16 , 5 और 2 वर्षीय  बच्चे पॉजिटिव पाए गए थे वह प्राइमरी कांटेक्ट पर्सन ही थे, जाहिर है पॉजिटिव केस के कांटेक्ट में आए थे। यही नहीं एक 57 वर्षीय  पॉजिटिव केस भी स्कैंडरी कांटेक्ट में आकर ही बीमारी की चपेट में आया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना