पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुविधा:1.34 करोड़ से अपग्रेड होगी मसियाना पेयजल योजना, 21 गांवों को फायदा

हमीरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सात मेन स्टोरेज टैंक बनेंगे, ग्राम पंचायत बजूरी और जंगल रोपा को मिलेगी सुविधा

मसियाना बजूरी पेयजल योजना को शीघ्र ही जल शक्ति विभाग अपग्रेड करने जा रहा है। इसके संवर्धन के लिए नाबार्ड से 1 करोड़ 34 लाख 81 हजार रुपए की राशि हाल ही में मंजूर हो गई है। सालों पुरानी इस योजना के अपग्रेड होते ही 2 पंचायतों ग्राम पंचायत बजूरी और ग्राम पंचायत जंगल रोपा के 21 गांवों को 12 महीनें सुचारू जल सुविधा का फायदा मिलना शुरू हो जाएगा।

इसमें 13 गांव बजूरी पंचायत के और 8 गांव जंगल रोपा पंचायत के शामिल होंगे। काबिलेगौर है कि इस योजना में अगले 15-20 साल तक पीने के पानी की दिक्कत ना आए। उस हिसाब से अपग्रेड किया जाएगा। इन 21 गांवों में सभी घरों तक सुचारू पीने का पानी पहुंचाने के लिए विभाग अलग-अलग जगह पर सात मेन स्टोरेज टैंक का निर्माण करेगा।

पंप हाउस पर नई पंपिंग मशीन लगेगी। एक अंडर ग्राउंड टैंक के साथ साथ एक ओवरहेड स्टोरेज टैंक भी बनाया जाएगा। इसके अलावा योजना के पास एक और रिसाव कुआं बनाया जाएगा, ताकि स्टोरेज टैंकों में पानी के भंडारण की कोई दिक्कत न आए। इन सभी गांव तक मेन डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम को अपग्रेड करने के लिए बड़ी डाय वाली पाइपों को डाला जाएगा ताकि पानी का प्रेशर कहीं भी कम ना पहुंचे।

इलाके के लोगों ने इस नई सुविधा को मंजूर करवाने के लिए स्थानीय विधायक सहित विभाग के अधिकारियों का आभार जताते हुए कहा कि इन कार्यों का निर्माण शीघ्र शुरू किया जाए ताकि आने वाली गर्मियों में पानी की दिक्कत का समाधान इस बार हो सके।
टेंडर प्रोसेस किया शुरू
मसियाणा बजूरी पेयजल योजना के संवर्धन के लिए नाबार्ड से एक करोड़ 34 लाख का बजट मंजूर हो गया है। कार्य को अवार्ड करने के लिए टेंडर प्रोसेस शुरू कर दिया गया है।
सुखदेव सिंह, एसडीओ जल शक्ति विभाग हमीरपुर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें