हिमाचल में 0 डिग्री तापमान में रेस्क्यू:लाहौल में 4 दिन से फंसे 100 पर्यटकों को निकाला, अटल टनल के बाहर फिसलन से टकराए वाहन

कुल्लू7 महीने पहले

हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिला लाहौल स्पीति में 4 दिनों से फंसे पर्यटकों का रेस्क्यू किया गया। लाहौल पुलिस और BRO टीम ने 100 के करीब फंसे लोगों को निकालने के लिए शून्य डिग्री सेल्सियस तापमान में ऑपरेशन चलाया। रेस्क्यू के बाद अटन टनल के रास्ते निकाले गए 7 वाहन मार्ग पर पड़ी बर्फ के कारण फिसलने से आपस में टकरा गए। हालांकि उन्हें सुरक्षित मनाली पहुंचा दिया गया है। उधर, प्रदेश में बर्फबारी का दौर जारी है।

अटल टनल के पास हुई टक्कर से वाहन क्षतिग्रस्त हो गए, हालांकि इन वाहनों में सवार लोग सुरक्षित हैं। वहीं पुलिस का वाहन भी बीच में फंस गया। फिलहाल बर्फबारी में फंसे पर्यटकों को रेस्क्यू कर मनाली पहुंचा दिया है। क्षेत्र में बर्फबारी का दौर अभी जारी है। पहाड़ों से अब हिमखंड भी गिरने शुरू हो गए हैं।

अटल टनल के बाहर बर्फ की फिसलन से पर्यटकों के वाहन टकरा गए थे।
अटल टनल के बाहर बर्फ की फिसलन से पर्यटकों के वाहन टकरा गए थे।

शून्य तापमान में चलाया रेस्क्यू ऑपरेशन

जनजातीय जिला लाहौल स्पीति में 4 और 5 जनवरी को बर्फबारी के कारण अटल टनल मार्ग यातायात के लिए बंद हो गया था। इस कारण घूमने पहुंचे पर्यटक घाटी में ही फंस गए। इन पर्यटकों को रेस्क्यू कर मनाली लाया गया है। लाहौल स्पीति जिला प्रशासन और BRO ने शुक्रवार को शून्य डिग्री सेल्सियस तापमान में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया।

घाटी की सड़क 4 बाई 4 वाहनों के लिए दिन में बहाल कर दी गई थी। पहले इन वाहनों से घाटी में फंसे पर्यटकों को अटल टनल के साउथ पोर्टल तक पहुंचाया गया। मनाली की ओर से मार्ग समय रहते बहाल नहीं हो पाने के कारण वहीं रोका। पर्यटकों को रेस्क्यू करने के लिए मार्ग में मनाली की ओर से 4 बाई 4 वाहनों को भेजने का प्रयास किया। इसके बाद बाहरी राज्यों के 90 पर्यटकों को मनाली पहुंचाया गया।

भारी बर्फबारी के बीच पर्यटक वहीं फंस गए, जिन्हें सुरक्षित रेस्क्यू कर लिया गया है।
भारी बर्फबारी के बीच पर्यटक वहीं फंस गए, जिन्हें सुरक्षित रेस्क्यू कर लिया गया है।

जवानों ने बर्फ हटाकर पर्यटकों को निकाला

अटन टनल के रास्ते निकाले गए वाहनों के आपस मे टकराने के बाद पुलिस और BRO के जवानों ने बेलचा से बर्फ हटाई और वाहनों को निकाला। बर्फबारी के बीच फंसे पर्यटकों को सुरक्षित मनाली पहुंचा दिया गया है। एसडीएम और डीएसपी लाहौल मौके पर पहुंचे। एसडीएम केलांग प्रिया नागटा, डीएसपी लाहौल स्पीति ने पर्यटकों का रेस्क्यू कराया। लाहौल स्पीति प्रशासन का दावा है कि देर रात तक सभी पर्यटकों को घाटी से सुरक्षित बाहर निकाला दिया है।

अटल टनल में पनाह लिए पर्यटक। इन्हें सुरक्षित मनाली पहुंचाया गया।
अटल टनल में पनाह लिए पर्यटक। इन्हें सुरक्षित मनाली पहुंचाया गया।

30 वाहनों से मनाली लाए गए पर्यटक

घाटी में फंसे 90 पर्यटकों को मनाली लाने के लिए 30 वाहन लगाए गए। इसमें 15 वाहन 4 बाई 4 और 15 वाहन 2 बाई 2 थे। पुलिस अधीक्षक लाहौल स्पीति मानव वर्मा ने बताया कि घाटी से रेस्क्यू किए गए 90 पर्यटकों में 76 पुरुष, 8 महिलाएं और 6 बच्चे शिमला से थे, उन्हें घाटी से सुरक्षित बाहर निकाल लिया है।

मौसम साफ होने से हिमखंड गिरने का खतरा भी बढ़ गया है।
मौसम साफ होने से हिमखंड गिरने का खतरा भी बढ़ गया है।
खबरें और भी हैं...