मनाली में बर्फबारी, मौज और परेशानी:सैलानियों ने उठाया लुत्फ; लेकिन रास्ते बंद होने से आवाजाही ठप, घरों में कैद हुए लोग

कुल्लू6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हिमाचल के जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति और कुल्लू में लगातार दो दिनों से बर्फबारी का दौर जारी है। बुधवार को पहाड़ों के साथ पर्यटन नगरी मनाली में माल रोड पर हुई बर्फबारी का पर्यटकों ने जमकर आनंद लिया। पर्यटक कई दिनों से यहां बर्फबारी के इंतजार में थे। बर्फबारी शुरू हुई तो वो छाते लेकर बाहर आ गए।

लाहुल-स्पीति का तमाम क्षेत्र बर्फ की परत से ढक गया है। सड़कें और पैदल रास्ते बर्फ के नीचे दब गए हैं। वाहनों की आवाजाही के साथ लोगों की पैदल आवाजाही भी थम गई है। बर्फबारी का असर अब आम जनजीवन पर भी दिखने लगा है। घाटी में तमाम वाहनों की आवाजाही रोक दी गई है। भारी बर्फबारी के चलते मनाली के उँचाई वाले क्षेत्रों में जनजीवन प्रभावित है। दूसरी तरफ मनाली के माल रोड पर बर्फ के फाहे गिरने शुरू हुए तो सैलानियों की भीड़ लग गई। बर्फ की चांदी ने माल रोड को ही सैलानियों का स्नो प्वाइंट बना दिया है।

मनाली के माल रोड पर बर्फ के फाहों के बीच पर्यटक।
मनाली के माल रोड पर बर्फ के फाहों के बीच पर्यटक।

रोहतांग दर्रा में 3 फीट तक बर्फ

जिला मुख्यालय केलांग में आधा फीट बर्फ की परत जम चुकी है। इसके अलावा तांदी-संगम, गोशाल, मालंग, पट्टन वैली में सात इंच से अधिक बर्फ की परतें हैं। सिस्सु, अटल टनल के साउथ पोर्टल में एक फीट से अधिक, कोकसर में डेढ़ फीट, रोहतांग दर्रा में तीन फीट, कुंजुम पास में पौने दो फीट बर्फ गिर चुकी है और घाटी में बर्फबारी का दौर जारी है। यहां पहुंचे पर्यटक जहां बर्फबारी का जमकर आनंद ले रहे हैं, वहीं स्थानीय लोग खराब मौसम के चलते कई परेशानी भी झेल रहे हैं।

कुल्लू की चोटियां भी बर्फ से ढंकी

इधर, कुल्लू जिला की तमाम ऊंची चोटियों के साथ-साथ पर्यटन नगरी मनाली के माल रोड पर भी बर्फ के फोहा गिरने शुरू हो गए हैं। अब तक सोलंगनाला में भी एक फुट, पलचान में आधा फुट, बांहग में 4 इंच तक बर्फबारी हो चुकी है। मनाली माल रोड पर दोपहर बाद बर्फ के फोहे गिरने शुरू हो गए। बिजली महादेव में भी आधा फीट बर्फबारी हो चुकी है।

ताजा बर्फबारी के बाद ये हालात।
ताजा बर्फबारी के बाद ये हालात।

वाहनों के लिए रास्ते बंद

उधर, एनएच 305 औट-लुहरी में भी जलोड़ी पास में बर्फबारी का दौर दो दिनों से जारी है। यहां डेढ़ फीट के करीब बर्फ की परत जम चुकी है। जलोड़ी पास के साथ-साथ सोझा, बशलेऊ जोत के साथ-साथ घाटी की ऊंची चोटियों में बर्फबारी जारी है।

हालांकि एनएच 305 मंगलवार से ही बर्फबारी के चलते यातयात के लिए बंद हो गया है। बुधवार को कुल्लू के पीणी, ब्यासर और जेठानी मार्ग भी बर्फबारी के चलते वाहनों की आवाजाही रोकनी पड़ी। सैंज और बंजार, आनी में भी कई लिंक रोड वाहनों के लिए बंद हो गए हैं।

खबरें और भी हैं...