पहाड़ों पर बर्फबारी का दौर शुरू:हिमाचल के लाहौल स्पीति और कुल्लू में पहाड़ बर्फ से लदे, यातायात पर भी दिखने लगा असर, प्रशासन अलर्ट

कुल्लूएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हिमाचल के जनजातीय जिला लाहौल स्पीति में बर्फबारी का दौर शुरू हो गया है। कुल्लू क्षेत्र में दो दिन से आसमान में बादल छाए हैं। रोहतांग दर्रा और आसपास की पहाड़ियों में बर्फबारी हो रही है। बदलते मौसम पर प्रशासन ने भी अलर्ट जारी किया है।

दिसंबर महीने के आगमन के साथ ही तापमान में गिरावट होने लगी है। इसके साथ ही बर्फबारी का दौर भी चल पड़ा है। जिला लाहौल स्पीति के दारचा, बारालाचा दर्रा, जिंग जिंग बार, पटसेउ सहित रोहतांग दर्रा, काजा मंडल के तमाम क्षेत्र में बर्फ गिर रही है। इसके चलते क्षेत्र के तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। मौसम विभाग के अलर्ट के बाद अब लाहौल स्पीति और कुल्लू प्रशासन सचेत हो गया है।

हिमाचल के काजा मंडल में बर्फबारी।
हिमाचल के काजा मंडल में बर्फबारी।

मौसम विभाग ने पूरे क्षेत्र में 6 दिसंबर तक बर्फबारी और बारिश की संभावना जताई है। जिला प्रशासन ने स्थानीय लोगों और पर्यटकों से अपील की है कि वे ऊंचाई वाले क्षेत्रों की ओर ना जाएं। भारी बर्फबारी होने से उनको नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

हिमाचल के लाहौल स्पीति में सड़क पर बर्फ।
हिमाचल के लाहौल स्पीति में सड़क पर बर्फ।

हिमाचल पथ परिवहन निगम केलांग के क्षेत्रीय प्रबंधक मंगल मोनपा ने बताया कि बर्फबारी को देखते हुए दारचा से आगे एचआरटीसी की बस सेवा बंद कर दी गई है। बाकी लाहौल घाटी में हालांकि अभी हालात सामान्य हैं। घाटी के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी का दौर आरंभ हुआ है। बस सेवा घाटी के भीतरी भागों में अभी जारी है। जैसे-जैसे बर्फबारी का दौर बढ़ेगा तो सड़क की स्थिति को देखते हुए बस सेवा को रोकने का फैसला होगा।

बर्फ से ढ़की सड़क से गुजरती कार।
बर्फ से ढ़की सड़क से गुजरती कार।

लाहौल स्पीति के डीसी नीरज कुमार और डीसी कुल्लू आशुतोष गर्ग ने अलर्ट जारी किया है। उन्होंने बताया कि मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार 6 दिसंबर तक बर्फबारी और बारिश होने की संभावना है। लोगाें ओर पर्यटकों को सावधानी बरतने की जरूरत है।

खबरें और भी हैं...