अवैध कब्जा का मामला:उद्योग लगाने को लीज पर ली जमीन, बना दिया शॉपिंग मॉल, शिकायत मिलने पर 5 साल बाद जागा विभाग

कुल्लू3 महीने पहलेलेखक: गौरीशंकर
  • कॉपी लिंक
नियमों को दरकिनार कर खड़ी की गई बिल्डिंग - Dainik Bhaskar
नियमों को दरकिनार कर खड़ी की गई बिल्डिंग
  • उद्योग विभाग ने अलाॅट की 600 वर्ग मीटर, 798 में बना दिया मॉल

कुल्लू के शमशी औद्योगिक क्षेत्र में एक उद्योगपति ने विभाग से उद्योग लगाने के नाम पर जमीन लीज पर ली लेकिन उसने इस पर शॉपिंग माल खड़ा कर दिया है। उद्योग विभाग को निर्माण के बारे में जानकारी थी लेकिन मूक दर्शक बना रहा।

अब शाॅपिंग मॉल पूरी तरह से तैयार होने के बाद जब विभाग के पास दूसरे उद्योगपतियों ने शिकायत की है तो अब नोटिस भेजकर 30 दिनों के भीतर स्ट्रक्चर रिमूव करने के आदेश दिए हैं। उद्योगपति ने इस मॉल में दुकानें किराए पर दे दीं।

उद्योगपति ने माॅल बनाने को अवैध कब्जा भी कर रखा है। नोटिस में कहा गया है कि उद्योगपति ने नक्शे को दरकिनार कर भवन का निर्माण किया है। ग्राउंड फ्लोर में दुकानों का निर्माण कर उन्हें किराए पर दे रखी हैं।

जिसका औद्योगिक क्षेत्र में कोई प्रावधान भी नहीं है। विभाग ने इसकी डिमार्केशन भी करवा दी है। पता चला कि भवन नक्शे से बाहर बनाया गया है। नक्शे में दुकानें बनाने का कोई प्रावधान नहीं था लेकिन उद्योगपति ने इसमेें अपनी मर्जी से दुकानें बनाई हैं।

198 मीटर में किया है अवैध कब्जा

मणिकर्ण फ्लोर मिल्स नाम की एक फर्म ने यहां उद्योग विभाग से मॉर्निंग बेक इंडस्ट्री लगाने के लिए 600 स्केयर मीटर जमीन लीज पर ली है। लेकिन उद्योगपति ने नियमों को दरकिनार कर मॉल बना डाला। इसका निर्माण 798 वर्ग मीटर में किया गया है जिसके चलते 198 वर्ग मीटर में पूरी तरह से अवैध निर्माण किया गया है। उद्योगपति ने दशकों पुरानी कूहल व रास्ते पर भी कब्जा किया है।

वर्ष 2000 में हुई थी लीज | वर्ष 20 अप्रैल 2000 में मणिकर्ण रोलर फ्लोर मिल्स नाम की फर्म ने उद्योग विभाग से धर्मकांटा लगाने के लिए जमीन की लीज ली लेकिन यहां धर्मकांटा नहीं लगा। उसके बाद वर्ष 2010 के बाद मणिकर्ण रोलर फ्लोअर मिल के एक अन्य यूनिट मॉर्निंग बेक इंडस्ट्री के नाम से उद्योग लगाने का उद्योग विभाग से आवेदन किया और 5-9-2012 में इसकी विभाग से अनुमति मिली।

लिहाजा उसके बाद इस भवन का निर्माण वर्ष 2015 में शुरू कर दिया था। अब यह भवन तैयार हो चुका है और पहली मंजिल दुकानदारों को अलाॅट कर दी गई हैं।

खबरें और भी हैं...