डाक विभाग की मनमानी:42 साल की नाैकरी, अब पेंशन देने से कर दिया इनकार

शिमला9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डाक विभाग - Dainik Bhaskar
डाक विभाग

डाक विभाग में 42 साल नाैकरी करने के बावजूद पेंशन देने से इनकार कर दिया गया है। यह आरोप कर्मचारी मंगल सिंह ने लगाया है। उन्होंने कहा कि 32 साल ग्रामीण डाक सेवक और 10 साल रेगुलर पत्र वाहक जीपी शिमला में सेवाएं देने के बाद पुरानी पेंशन से वंचित होना पड़ रहा है।

विभाग ने यह तर्क देकर उन्हें पुरानी पेंशन सेवा से बाहर कर दिया है कि 32 साल ग्रामीण डाक सेवक की नौकरी पुरानी पेंशन के लिए मान्य नही है। क्योंकि, यह नौकरी मात्र 4 से 5 घंटें की है। ऐसे में 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो रहे पत्र वाहक मंगल सिंह को सेवानिवृति के बाद अपनी गुजर बसर की चिंता सताने लगी है। उन्होंने कहा कि जो काम रेगुलर पत्र वाहक करते है, वही काम ग्रामीण डाक सेवक करते है। एक जीडीएस के लिए करीब 72 किलोमीटर की बीट बनी है। जो उसे 4 घंटें में तय करनी होती है।

खबरें और भी हैं...