पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सूखा हिमाचल:708 पेयजल स्कीमें प्रभावित, 3 लाख लोग पानी को तरसे

शिमलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राज्य में कम बर्फबारी व बारिश का असर, गर्मी आने से पहले घटने लगा जलस्तर
  • जैसे-जैसे गर्मी बढ़ेगी, पेयजल संकट और बढ़ेगा, 100 से ज्यादा स्कीमें रेड जोन में

गर्मियाें के दस्तक देने से पहले ही प्रदेश में सूखे का असर दिखना शुरू हाे गया है। कम बारिश और बर्फबारी के कारण प्रदेश की 708 स्कीमें प्रभावित हाे चुकी हैं। शिमला जाेन में सबसे ज्यादा 419 पानी की स्कीमें प्रभावित हुई हैं। मंडी जाेन में 212, हमीरपुर जाेन में 18 और धर्मशाला जाेन में 59 स्कीमाें में जलस्तर कम हाे गया है।

इससे प्रदेश में 2815 बस्तियाें में रहने वाली तीन लाख से अधिक जनसंख्या प्रभावित हुई है। ग्रामीण क्षेत्राें में सूखे का ज्यादा असर देखने काे मिल रहा है। सूखे काे लेकर अगर हालात यूं ही बने रहे ताे आने वाले दिनाें में प्रदेश काे भारी सूखे की स्थिति का सामना करना पड़ सकता है।

विभाग ने जून तक की रणनीति तैयार की है। इसके तहत पानी की जाे स्कीमें सूख गई है या िजन स्कीमाें में जल स्तर काफी कम हाे गया है उन स्कीमाें काे साथ लगती पानी की स्कीमाें के साथ इंटरलिंक करने काे कह दिया है। विकास लाबरू, सचिव जल शक्ति विभाग

किस जोन में कितनी स्कीम प्रभावित...

जाेन कुल प्रभावित रेड ओरेंज ग्रीन स्कीम स्कीम

  • शिमला 4996 419 6 152 261
  • मंडी 2419 212 27 93 92
  • हमीरपुर 913 18 0 9 9
  • धर्मशाला 1468 59 0 2 57
  • रेड जाेन 70% से ज्यादा सूखी
  • ओरेंज जाेन 50% से ज्यादा सूखी
  • ग्रीन जाेन 25% तक सूखी

सोलन सर्कल में घटा सबसे ज्यादा जलस्तर

  • शिमला जाेन के तहत आने वाले साेलन सर्कल की सबसे ज्यादा 205 स्कीमाें में जल स्तर घटा है।
  • मंडी जाेन के तहत आने वाले सुंदरनगर सर्कल में 143 और कुल्लू सर्कल की 69 स्कीमें प्रभावित हुई हैं।
  • हमीरपुर जाेन के तहत आने वाली बिलासपुर सर्कल में 18 स्कीमाें में पानी का स्तर घटा है
  • धर्मशाला जाेन के तहत आने वाले धर्मशाला सर्कल में 20, चंबा सर्कल में 39 स्कीमें प्रभावित हुई है।

आगे क्या...जून तक विभाग की रणनीति तैयार

  • सूखे की स्थिति से निपटने के लिए विभाग ने जून तक रणनीति तैयार कर ली है। विभाग सूखी स्कीमाें काे उन स्कीमाें के साथ लिंक करेगा जिनमें पानी है। इसके लिए विभाग ने अधिकारियाें काे ऐसी स्कीमाें का पता लगाकर पानी वाली स्कीमाें के साथ इंटरलिंक करने के लिए कह दिया है।
  • सूखे की स्थिति से निपटने के लिए सरकार ने भी इस साल उन एरिया में हैंडपंप लगाने की परमिशन दे दी है जहां काेई दूसरा विकल्प नहीं है।
  • जहां जरूरी हाेगा वहां पर विभाग ऑन डिमांड टैंकराें से भी पानी की सप्लाई करेगा। विभाग ने फील्ड स्टाफ से हर सप्ताह सूखे की रिपाेर्ट देने काे कहा है।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें