पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हिमाचल में कोरोना का कहर:941 नए केस मिले, 12 मौतें; एक्टिव केस 5223, कुल 1102 मौतें

शिमला4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लाहौल जाने के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट जरूरी होने के बाद कुल्लू में टेस्ट करने वालों की भीड़। - Dainik Bhaskar
लाहौल जाने के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट जरूरी होने के बाद कुल्लू में टेस्ट करने वालों की भीड़।
  • प्रदेश में काेराेना का रिकवरी रेट गिर कर पहुंचा 90. 67 प्रतिशत

कोरोनावायरस का संक्रमण प्रदेश में गंभीर स्थिति में पहुंच चुका है, हालत ये है कि 24 घंटे में 916 नए मामले आए हैं और 12 मौतें भी हुई हैं। नवंबर के बाद प्रदेश में ये एक दिन में काेराेना के सबसे ज्यादा केस हैं, वहीं ये रिकॉर्ड मौतें भी हुई हैं। नई मौतों में शिमला में 4, कांगड़ा में 4, ऊना में 3 तथा कुल्लू व हमीरपुर में एक-एक शामिल है।

इन्हें मिला कर प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1102 हो गई है। शनिवार को प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 941 नए मामले आए। कांगड़ा जिले में 144, मंडी में 134. हमीरपुर व शिमला जिले में 97-97, ऊना मे 85, बिलासपुर में 82, सिरमौर में 59, कुल्लू में 31, चंबा में 9, लाहौल-स्पीति में 7 और किन्नौर जिले में 3 मरीज कोरोना पाॅजिटिव आए हैं। साथ ही 358 लोग ठीक भी हुए। प्रदेश में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 69114 हो गई है। साथ ही 62671 संक्रमित स्वस्थ हुए हैं। एक्टिव मामलों की संख्या 5223 है।

4500 कर्मचारियों को फील्ड में उतारने का फैसला

कोरोना पर काबू पाने के लिए सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के 4500 कर्मचारियों और अधिकारियों को फील्ड में उतारने का फैसला लिया है। पहले 2500 कर्मचारियों को फील्ड में तैनात किया था। प्रदेश में रोजाना 8 हजार से अधिक लोगों के कोरोना सैंपल लिए जा रहे हैं। साथ ही 50 हजार लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य तय किया है।

पंजाब में निर्देश: कोविड मैनेजमेंट को निजी अस्पताल 30 अप्रैल तक गैर जरूरी सर्जरियां स्थगित करें

चंडीगढ़| स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग पंजाब के प्रमुख सचिव हुसन लाल ने कोविड-19 मैनेजमेंट को लेकर राज्य के निजी अस्पतालों के साथ वर्चुअल मीटिंग की। उन्होंने कोविड-19 का इलाज कर रहे निजी अस्पतालों से अपील की है कि बढ़ रहे केसों के साथ निपटने के लिए कम से कम 30 अप्रैल तक गैर जरूरी सर्जरियों को स्थगित किया जाए। प्राइवेट अस्पतालों को निर्देश दिए कि इलाज के लिए सरकारी तय रेटों के मुताबिक ही खर्च लिया जाए। राज्य में 213 निजी अस्पताल कोविड-19 मरीजों की देखभाल कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...