पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रोष प्रदर्शन:तकनीकी विश्वविद्यालय में स्टूडेंट्स से ज्यादा फीस लेने पर एबीवीपी का विरोध

शिमला6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

छात्र संगठन एबीवीपी ने तकनीकी विश्वविद्यालय में शिक्षकों की भर्ती और भारी-भरकम फीस लिए जाने की निंदा की है। प्रांत मंत्री विशाल वर्मा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय में पिछले 3 वर्षों से आठ पाठ्यक्रम चलाए जा रहे हैं व विश्वविद्यालय के अंदर 430 से अधिक विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

दुर्भाग्य की बात है की विश्वविद्यालय के अंदर एक भी स्थाई शिक्षक की नियुक्ति अभी तक नहीं हो पाई है। वहीं अपने आप को मंत्रिमंडल में सबसे अधिक पढ़ा-लिखा कहने वाले तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा तकनीकी विश्वविद्यालय की इस माली हालत पर खामोश हैं। विद्यार्थी परिषद लगातार तीन वर्षों से तकनीकी विश्वविद्यालय की मांगों को लेकर जिला हमीरपुर सहित पूरे प्रदेश भर में आंदोलनरत है।

बावजूद इसके भी तकनीकी विश्वविद्यालय के अंदर एक भी स्थाई शिक्षक की नियुक्ति करने में सरकार नाकामयाब रही है। वहीं तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में वर्तमान कुलपति को एक वर्ष का सेवा विस्तार पुनः प्रदेश सरकार के द्वारा दिया गया है, लेकिन विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले छात्रों के भविष्य के साथ लगातार खिलवाड़ किया जा रहा है और विद्यार्थियों का भविष्य गेस्ट फैक्ल्टी के हाथों में दे कर सरकार अपनी जिम्मेवारियों से भाग रही है।

विश्वविद्यालय में शिक्षकों व गैर शिक्षकों के लगभग 83 पद खाली हैं जिस बाबत विद्यार्थी परिषद का प्रतिनिधिमंडल पहले भी मंत्री से मिल चुका है। लेकिन मंत्री और प्रदेश सरकार के ऐसे उदासीन रवैये से तकनीकी विश्वविद्यालय में पढ़ने वाला विद्यार्थी आज भी स्थाई शिक्षकों की बाट जोह रहा है।

खबरें और भी हैं...