'अग्निपथ' भर्ती के विरोध में प्रदर्शन:शिमला में कांग्रेस नेताओं की पुलिस से झड़प, विधानसभा से DC ऑफिस तक शव यात्रा

शिमला5 महीने पहले
Mfcne

देशभर में 'अग्निपथ भर्ती योजना' के खिलाफ जन आक्रोष बढ़ता जा रहा है। युवाओं के बाद अब कांग्रेस भी इस मसले को सड़क पर उतकर उठाने लगी है। हिमाचल कांग्रेस ने शनिवार को सभी जिला मुख्यालय में इस योनजा के विरोध में प्रदर्शन किए। शिमला में भी 'अग्निपथ भर्ती' को लेकर कांग्रेस ने विधानसभा चौक से DC ऑफिस तक शव यात्रा निकाली।

इस दौरान कांग्रेस नेताओं ने CTO चौक पहुंचने के बाद माल रोड जाने की कोशिश की। CTO चौक पर पुलिस ने बैरिकेड लगाकर कांग्रेस नेताओं रोका तो कांग्रेस नेताओं की पुलिस के साथ तीखी नोकझोंक और धक्का मुक्की हो गई। इसके बाद कांग्रेस ने DC ऑफिस के बाहर सरकार का पुतला भी जलाया। प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस ने मोदी सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की और इस योजना को जल्द वापस लेने की मांग की है।

शिमला में DC ऑफिस के बाहर प्रदर्शन करते हुए कांग्रेस नेता।
शिमला में DC ऑफिस के बाहर प्रदर्शन करते हुए कांग्रेस नेता।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद प्रतिभा सिंह ने सेना में अग्निपथ भर्ती योजना को देश के युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ बताया है। उन्होंने कहा कि यह सेना में युवाओं के देशभक्ति के जज्बे को कम करेगा। कठिन परिश्रम के बाद केवल चार साल के लिए सेना में उनकी सेवा उनके साथ एक बड़ा अन्याय होगा। उन्होंने देश व युवाओं के हित मे सेना की प्रस्तावित अग्निपथ योजना पर रोक लगाने की मांग की है। प्रतिभा सिंह ने कहा कि देश की रक्षा के लिए मर मिटने का जज्बा रखने वाले युवा ही सेना में भर्ती के लिए कड़ा परिश्रम करते हैं। उन्होंने कहा कि सेना में अंशकालिक भर्ती का कोई भी प्रयोग सही साबित नहीं होगा। उन्होंने कहा कि देश की सीमाओं की रक्षा के लिए सैन्य बल में किसी भी प्रकार की कमी देश की आंतरिक व बाहरी सुरक्षा के लिए कोई बड़ा खतरा साबित हो सकती है। इसलिए सेना में भर्ती पूर्व निर्धारित नियमों व पूरे समय अवधि के लिए ही होनी चाहिए।

प्रदेश के सभी जिलों में कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

शिमला के अलावा हिमाचल के अन्य सभी जिलों में भी 'अग्निपथ भर्ती योजना' के विरोध में कांग्रेस ने प्रदर्शन किया है। शिमला में प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू, कार्यकारी अध्यक्ष हर्ष महाजन समेत कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह और अनिरुद्ध सिंह इत्यादि नेता शामिल हुए।

75 फीसदी युवाओं को बाहर करेंगी सरकार

सुखविंद सिंह सुक्खू ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा जो अग्निपथ योजना लाई है उसके खिलाफ देशभर में युवा प्रदर्शन कर रहा है। केंद्र सरकार युवाओं को 4 साल के लिए आर्मी में नौकरी दे रही है और उसके बाद 75 फीसदी युवाओं को निकाल दिया जाएगा। युवा उसके बाद रोजगार के लिए कहां भटकेंगे। यह पहली बार हुआ है कि देश में सेना में इस तरह से युवाओं को भर्ती किया जाएगा।