• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Badra Rained 54% More Than Normal In 2 Days, Bilaspur Received The Highest 223 And Lahaul Spiti Rained The Least 87%

2 दिन में सामान्य से 54% अधिक बरसे बदरा:बिलासपुर में सबसे अधिक 223 व लाहौल-स्पीति में सबसे कम 87% हुई बारिश

शिमला7 महीने पहले
शिमला में मौसम का बदला मिजाज।

हिमाचल प्रदेश में तीन जिलों को छोड़कर शेष सभी 9 जिलों में मानसून की अच्छी बारिश हो रही है। प्रदेश में अभी तक मानसून सामान्य से 54% ज्यादा बरस चुका है। लाहौल स्पीति, हमीरपुर और ऊना जिले में मानसून की कम बारिश हो रही है। लाहौल स्पीति में सबसे कम 87% कम बारिश हुई है।

हमीरपुर में 67 और ऊना में 52% कम बारिश दर्ज की गई है। अभी तक बिलासपुर में सबसे ज्यादा 223, शिमला में 221, सोलन में 204 और किन्नौर में 149% ज्यादा बारिश हो चुकी है। प्रदेश के अन्य जिलों में भी मानसून जमकर बरस रहा है। इससे प्रदेश में लोगों को सूखे की स्थिति से भारी निजात मिली है।

आज और कल प्रदेश में 13.6 MM बारिश दर्ज की गई है, जो सामान्य से 54% ज्यादा है। बीते 24 घंटों के दौरान नालागढ़ में सबसे ज्यादा 65 MM बारिश हुई है। शिलारू में 59, नारकंडा में 43, अर्की में 40, सोलन में 30, कुफरी में 29, कंडाघाट में 25, शिमला में 24, राजगढ़ में 19 MM बारिश हुई है। मौसम विभाग ने 6 जुलाई तक प्रदेश में सभी जगह मानसून के सक्रिय रहने का येलो अलर्ट जारी किया है।

भारी बारिश से सिरमौर में बिजली के 209 पोल टूटे हैं। इसमें पांवटा में 133, शिलाई में 20, राजगढ़ में 56 बिजली के पोल टूटने से क्षेत्र में पावर कट की समस्या पैदा हो गई है। इसी तरह कल्पा, निचार, लाहौल और उदयपुर में 5 सड़कें लैंडस्लाइड के कारण बंद हैं। कुल्लू में पानी की 8 स्कीमें टूट गई हैं।

लाहौल स्पीति में आज बादल फटने की घटना घटी है। हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति के मयाड़ घाटी में बादल फटा है। जिसके कारण नालों में बाढ़ आ गई है। बाढ़ की वजह से ग्रामीणों के खेतों में पानी घुस गया है। साथ ही सड़क को भी नुकसान पहुंचा है। लाहौल-स्पीति DDMA ने बताया कि मयाड़ घाटी में बादल फटने से करपट घोट नाला, शकोली नाला और चांगुट के बिग्गी नाले में बाढ़ आई है।