पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Beware Of Calls Made In The Name Of Cavide Vaccination, You Will Get Such Calls; Do Not Share Information About Police Advice

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रहें अलर्ट:काेविड वैक्सिनेशन के नाम पर आई काॅल से रहें सावधान, लाेगाें काे आने लगे ऐसे फोन; पुलिस की सलाह-काेई भी जानकारी शेयर न करें

शिमला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • कोरोना वैक्सीन के लिए आई किसी तरह की कॉल का जवाब न दें, हाे सकती है धाेखाधड़ी

कोविड वैक्सिनेशन के नाम पर अगर आपको कोई कॉल आए तो सावधान रहें। साइबर क्रिमिनल्स कोविड वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने के नाम पर लोगों को कॉल कर उनसे आधार कार्ड समेत बाकी निजी जानकारियां मांग रहे हैं। इसके लिए वे अपने आपको स्वास्थ्य विभाग और संबंधित एंजेसियों के कर्मचारी बता रहे हैं।

ऐसे में साइबर पुलिस ने भी लोगों को आगाह किया है कि वे कोरोना वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने या इससे संबंधित अन्य कार्यों के लिए आने वाली कॉल पर भरोसा न करें। ऐसे लोगों से आधार कार्ड, ओटीपी सहित अन्य शेयर न करें। ऐसा करने से आपके साथ बड़ी धोखाधड़ी हो सकती है। कोरोना महामारी से भय का माहौल है। हालांकि अब इसका इलाज भी ढूंढ लिया गया है और इसके लिए वैक्सीन इजाद की गई हैं।

देश में भी कोरोना की वैक्सीन के इस्तेमाल का रास्ता साफ हो गया है। मगर इससे साइबर क्रिमिनल्स को भी ठगी करने का एक नया मौका मिल गया है। कोरोना के लिए सरकार वैक्सिनेशन करवाने के लिए सरकार ने अपने स्तर पर तैयारियां भी कर दी हैं। इसका फायदा उठाकर साइबर क्रिमिनल्स ठगी कर रहे हैं। वे कोरोना वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए लोगों को कॉल कर रहे हैं। लोगों से आधार कार्ड, ईमेल आईडी और मोबाइल फोन पर आने वाले नंबर यानि ओटीपी मांगा जा रहा है।

खाते से पैसे उड़ा सकते हैं ठग

आधार कार्ड, ईमेल, मोबाइल नंबर आपके बैंक खातों से जुड़ा होता है। ऐसे में इनकी जानकारी लेने की साइबर क्रिमिनल्स कोशिश करते हैं। वहीं इसके साथ ही जब कोई पैसा ट्रांसफर खाते से किया जाता है तो इसके लिए खाते से जुड़े मोबाइल नंबर पर एक नंबर यानि ओटीपी आता है।

ओटीपी अगर आप शेयर करते हैं तो इससे साइबर क्रिमिनल्स आपके बैंक खाते से पैसा निकालने में कामयाब हो जाते हैं। यही वजह है कि वैक्सीन के नाम पर कॉल या मैसेज करने वाले लोगों से ओटीपी नंबर भी मांग रहे हैं।

कोई रजिस्ट्रेशन नहीं हो रहा

साइबर क्रिमिनल्स की मानें तो जिस तरह से लोगों को वैक्सिनेशन के लिए कहा जा रहा है, वह केवल ठगी करने के मकसद से ही ही किया जा रहा है। सरकार की ओर से लोगों को इस तरह की कोई भी कॉल नहीं की जा रही है। कोरोना वैक्सिनेशन के लिए किसी का रजिस्ट्रेशन नहीं किया जा रहा है।

कोरोना की वैक्सीन किन लोगों को लगेगी यह सरकार तय करेगी। इसके लिए सरकार ने खाका तैयार भी कर दिया है। मगर इसके लिए सरकार के किसी भी विभाग या एजेंसी की ओर से कोई संपर्क नहीं किया जा रहा। लोगों के वैक्सिनेशन को लेकर एक पूरी प्रक्रिया अपनाई जाएगी और यह पूरी तरह से पारदर्शी होगी।

किसी के झांसे में न आएं

एडिशनल एसपी साइबर क्राइम नरवीर सिंह राठौर का कहना है कि साइबर क्रिमिनल्स कोविड वैक्सिनेशन के नाम पर फ्रॉड करने की कोशिश कर रहे हैं। लोग इस तरह की कॉल और मैसेज करने वालों के झांसे में न आएं। वैक्सीन के नाम पर आधार कार्ड, ओटीपी समेत कोई भी जानकारी किसी से भी शेयर न करें, अन्यथा आप धोखाधड़ी के शिकार हो सकते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें