• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • BJP Bans Shimla For All Its MLAs, Instructions To Do Public Meeting In Respective Constituency, Asked To Improve Performance By The End Of June,

भाजपा विधायकों के लिए शिमला बैन:अपने-अपने चुनाव क्षेत्र में जनसंपर्क अभियान शुरू करने के निर्देश; रोजाना हो रही मॉनिटरिंग

शिमला6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विधानसभा चुनाव को लेकर आयोजित बैठक में भाजपा नेता। - Dainik Bhaskar
विधानसभा चुनाव को लेकर आयोजित बैठक में भाजपा नेता।

भारतीय जनता पार्टी ने अपने सभी विधायकों (MLA) के लिए शिमला बैन कर दिया है। साल 2017 में पार्टी के टिकट पर आम चुनाव और 2021 में उपचुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों को भी शिमला नहीं घूमने के निर्देश दिए गए हैं। इन्हें अपने-अपने चुनाव क्षेत्र में जनसंपर्क अभियान शुरू करने को कहा गया है।

सूत्रों की माने तो भाजपा के संगठन मंत्री पवन राणा ने इस बाबत सभी MLA और प्रत्याशियों को निर्देश जारी किए हैं। इन्हें चुनाव क्षेत्र में नाराज चल रहे लोगों से मिलने, आम जनता से संपर्क स्थापित और केंद्र व राज्य की डबल इंजन सरकार के कार्य को जन-जन तक पहुंचाने को बोला गया है।

संगठन के ताजा आदेशों के बाद भाजपा का कोई भी विधायक और प्रत्याशी शिमला में ट्रांसफर या दूसरे काम के बहाने से नहीं घूम पाएगा। दरअसल, सत्तारूढ़ भाजपा मिशन रिपीट के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। इसके लिए संगठन का हर एक कार्यकर्ता सक्रिय हो गया है।

वॉट्सऐप ग्रुप पर जानकारी अपडेट करनी की अनिवार्य

शिमला बैन के साथ-साथ सभी BJP विधायकों और प्रत्याशियों को एक वॉट्सऐप ग्रुप बनाया गया है, जिसमें सभी को रोजाना जिन लोगों से मुलाकात की और चुनाव क्षेत्र में बैठकें की है। उसकी फोटो ग्रुप में अपडेट करने को बोला गया है। इससे BJP इनके रोजाना के जनसंपर्क अभियान की मॉनिटरिंग कर रही है।

जेपी नड्डा ने दिए थे रिपोर्ट कार्ड

गौरतलब है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने बीते माह शिमला में सभी विधायकों को उनका रिपोर्ट कार्ड सौंपा था। इसमें संगठन द्वारा तैयार रिपोर्ट उन्हें दी गई थी, जिसमें बताया गया कि आपके चुनाव क्षेत्र में कौन-कौन लोग नाराज है। आप ने कितनी बार चुनाव क्षेत्र का दौरान किया और सुधार की क्या जरूरत है। इस रिपोर्ट कार्ड में विस्तार से सभी विधायकों को बताया गया।

परफॉर्मेंस सुधारने को जून तक का वक्त

BJP ने विधायकों को जून महीने तक अपनी परफॉर्मेंस सुधारने के निर्देश दिए है। जून में दोबारा से संगठन इनका रिपोर्ट कार्ड तैयार करेगी। इसी आधार पर पार्टी इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में टिकट आवंटन करेगी।