हिमाचल के बजट में 3233 करोड़ इजाफा होगा:विधायकों के साथ CM जयराम ने की बैठक, बोले- सड़कें बनाना व खाली पद भरना प्राथमिकता

शिमला7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हिमाचल के CM जयराम ठाकुर की फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
हिमाचल के CM जयराम ठाकुर की फाइल फोटो

हिमाचल के आगामी वित्तीय वर्ष के बजट में 3233 करोड़ का इजाफा होगा। मौजूदा वित्त वर्ष में 9405 करोड़ के मुकाबले 2022-23 के लिए जयराम सरकार का विकास परिव्यय 12638 करोड़ होने का अनुमान है। यह बात सोमवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोलन, मंडी और बिलासपुर जिला के विधायकों के साथ आयोजित बैठक में कही। इसमें अधिकतर विधायकों ने अपने-अपने चुनाव क्षेत्रों में विभिन्न विभागों में रिक्त पद भरने, सड़के बनाने व स्वास्थ्य और चिकित्सा संस्थान खोलने की मांग उठाई।

दरअसल, मुख्यमंत्री 2022-23 के बजट से पहले सभी 68 विधायकों की प्राथमिकताएं जानने को बैठक ले रहे हैं। दोपहर बाद तक हुई बैठक में तीन जिला के विधायकों ने अपनी-अपनी प्राथमिकताएं सीएम को बता दी हैं, जबकि तीन अन्य जिला की बैठक देर शाम तक चली। शेष छह जिला के विधायक मंगलवार को होने वाली बैठक में अपनी प्राथमिकताएं सीएम को बताएंगे। अब देखना होगा कि सरकार कितनी प्राथमिकताओं को पूरा करने के लिए बजट का प्रावधान कर पाती है।

सड़कों के निर्माण के लिए सुरंगों को प्राथमिकता देने की मांग

अर्की से विधायक संजय अवस्थी ने कोल बांध जलाशय में जल क्रीड़ाओं को प्रोत्साहित, सड़कों के निर्माण के लिए सुरंगों को प्राथमिकता देने, नए पर्यटन गंतव्य विकसित करने, दाड़लाघाट और बागा में ट्रक यार्ड स्थापित करने की मांग उठाई। नालागढ़ से विधायक लखविन्दर राणा ने विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं की डीपीआर बनाने में देरी पर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ग्राम पथ योजना के अर्न्तगत अधिक निधि प्रदान की जानी चाहिए, ताकि उनके क्षेत्र की अधिक से अधिक सड़कों को इस योजना के तहत लाया जा सके। उन्होंने विशेषकर सीमेंट कारखानों वाले क्षेत्रों में सड़कों का समुचित रखरखाव सुनिश्चित करने और सभी उद्योगों में 80 प्रतिशत हिमाचलियों को रोजगार देने की शर्त का कड़ाई से पालन करने की मांग रखी।

दून से विधायक परमजीत सिंह पम्मी ने कहा कि दून विधानसभा क्षेत्र में जल शक्ति मंडल को पाइपों की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित की जानी चाहिए। उन्होंने मुख्यमंत्री से दून विधानसभा क्षेत्र में उपमंडलाधिकारी (नागरिक) और खंड विकास अधिकारी के कार्यालय खोलने, क्षेत्र के विद्यार्थियों की सुविधा के लिए उनके विधानसभा क्षेत्र के चंडी में स्नातक महाविद्यालय खोलने का भी आग्रह किया। सोलन से विधायक कर्नल डॉ. धनी राम शांडिल ने उनके विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न सड़कों के निर्माण कार्यों में तेजी लाने, सोलन शहर में समुचित पार्किंग बनाने, पुलिस स्टेशन सायरी को शीघ्र कार्यशील करने की मांग रखी।

स्वास्थ्य केंद्र और जल शक्ति उपमंडल खोलने की मांग

झंडूता के विधायक जीत राम कटवाल ने उनके क्षेत्र में और अधिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने, तलाई में जल शक्ति उपमंडल खोलने और क्षेत्र में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए झील में जलक्रीड़ा गतिविधियां आरंभ करने की मांग रखी। बिलासपुर सदर से विधायक सुभाष ठाकुर ने बिलासपुर बस स्टैंड के स्तरोन्नयन, विस्थापितों की समस्याओं के समाधान, बिलासपुर में परिवहन नगर स्थापित करने, बांदला में पैराग्लाइडिंग स्थल विकसित करने और बिलासपुर से बांदला तक रज्जुमार्ग बनाने का भी आग्रह किया।

नैना देवी जी से विधायक राम लाल ठाकुर ने उनके निर्वाचन क्षेत्र के किसानों के लिए सिंचाई सुविधा का समुचित प्रबंध करने, जलापूर्ति योजनाओं, विशेषकर जामली गांव, दामीघाटी योजनाओं इत्यादि के लिए उपयुक्त धनराशि उपलब्ध करवाने, अली खड्ड के तटीयकरण और उनके विधानसभा क्षेत्र में स्वास्थ्य संस्थानों में विशेषज्ञ चिकित्सक उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया।

तत्तापानी के घाटों के निर्माण के लिए धनराशि उपलब्ध करवाई जाए

करसोग के विधायक हीरा लाल ने तत्तापानी के घाटों के निर्माण के लिए पर्याप्त धनराशि उपलब्ध करवाने, करसोग अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया। सुन्दरनगर के विधायक राकेश जंवाल ने मुख्यमंत्री से सुंदरनगर में फूड क्राफ्ट संस्थान खोलने और सुन्दरनगर के सुकेत कैफे के सुदृढ़ीकण, निहरी चरखड़ी सड़क का कार्य शीघ्र शुरू, सुन्दरनगर बस अड्डे पर इन्टरलॉक टाइलें उपलब्ध करवाने का आग्रह किया।

नाचल में पर्यटन सूचना केंद्र खोलने की मांग

नाचन से विधायक विनोद कुमार ने क्षेत्र में एक पर्यटन सूचना केंद्र खोलने, चैल चौक में पर्याप्त पार्किंग की व्यवस्था उपलब्ध कराने, ग्रामीण क्षेत्रों में बेहतर मल निकासी सुविधा उपलब्ध करवाने की मांग रखी। द्रंग से विधायक जवाहर ठाकुर ने जल शक्ति विभाग का एक मंडल थलौट में खोलने, सभी रिक्त पद भरने, आईटीआई और अटल आदर्श विद्यालय खोलने, नगवाईं और बरोट सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में 108 एम्बुलेंस सुविधा उपलब्ध करवाई जाए।

विभिन्न विभागों में रिक्त पदों को शीघ्र भरा जाए

जोगिन्द्रनगर से विधायक प्रकाश राणा ने पुलिस चौकी लडभड़ोल को पुलिस स्टेशन में स्तरोन्नत करने की घोषणा को जल्द पूरा करने, विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न विभागों के रिक्त पदों को शीघ्र भरने का आग्रह किया। मंडी सदर से विधायक अनिल शर्मा ने कहा कि पहाड़ी राज्य होने के कारण जल निकासी की समुचित व्यवस्था न होने से सभी सड़कें क्षतिग्रस्त हो जाती हैं। उन्होंने कहा कि सड़कों का समुचित रख-रखाव किया जाना चाहिए और महाविद्यालय के भवन का निर्माण समयबद्ध पूर्ण किया जाना चाहिए।

सड़कों के रखरखाव का आग्रह

बल्ह से विधायक इंद्र सिंह ने कहा कि बल्ह में लघु सचिवालय के निर्माण के लिए समुचित धनराशि उपलब्ध करवाने, सुकेती खड्ड के तटीयकरण, बल्ह में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन संयंत्र उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया। सरकाघाट से विधायक कर्नल इंद्र सिंह ने क्षेत्र की सड़कों का समुचित रख-रखाव, पेयजल का समुचित वितरण सुनिश्चित करने, सरकाघाट अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सक उपलब्ध करवाने की मांग की।

अपनी सरकार से नाराज दिखे अनिल शर्मा

मंडी से भाजपा विधायक एवं इसी सरकार में मंत्री रहे अनिल शर्मा अपनी ही पार्टी की सरकार से नाराज दिखे। उन्होंने कहा कि उनके चुनाव क्षेत्र की 8-8 सड़कें अभी भी नाबार्ड की मंजूरी का इंतजार कर रही हैं। पीएमजीएसवाई के तहत भी उन्होंने सड़कों को बनाने में अनदेखी का आरोप लगाया है। अनिल शर्मा ने जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर के प्रति नाराजगी जाहिर की है।

खबरें और भी हैं...