हिमाचल में कांग्रेस विधायकों को सेफ हाउस में रखेगी:MLA को शिमला में ही रुकने को कहा, बघेल, हुडा और शुक्ला शुक्रवार को सभी से मिलेंगे

शिमला2 महीने पहले

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस पार्टी ने अपने सभी विधायकों को शिमला में ही रुकने को कहा है। हाईकमान के पर्यवेक्षक बनाए गए छत्तीसगढ़ के CM भूपेश बघेल, हरियाणा के पूर्व CM भूपेंद्र सिंह हुड्डा, हिमाचल प्रभारी राजीव शुक्ला शुक्रवार को चुनाव जीते पार्टी के विधायकों से मिलेंगे। सूत्रों के अनुसार सरकार बनने तक अपने विधायकों को प्रदेश से बाहर दूसरे राज्यों में ले जा सकती है, ताकि इन्हें भाजपा नेताओं के संपर्क से दूर रखा जा सके।

विधायकों को छत्तीसगढ़ या राजस्थान भेजा जा सकता है। ऐसी खबर भी खबर थी कि रायपुर के मेफेयर रिसॉर्ट को भी बुक कर लिया गया है। हालांकि अभी तक इसे लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है।

ये भी पढ़ें; हिमाचल में हार और गुजरात में जीत पर क्या बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी...

कांग्रेस महासचिव विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि BJP गड़बड़ पार्टी है, लेकिन हमने गलतियों से काफी कुछ सीखा है। प्रतिभा सिंह मुख्यमंत्री चेहरा हैं। इससे पहले विधायक दल में चर्चा होगी। अंतिम निर्णय पार्टी हाईकमान लेगा।

बघेल ने कहा- BJP कुछ भी कर सकती है
छत्तीसगढ़ के CM भूपेश बघेल ने हिमाचल के नवनिर्वाचित विधायकों को रायपुर लाने के सवाल पर कहा कि यहां तो नहीं लाएंगे, लेकिन अपने साथियों को संभाल कर जरूर रखेंगे, क्योंकि BJP कुछ भी कर सकती है।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल।
पत्रकारों से बातचीत करते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल।

बताया जा रहा है कि कांग्रेस विधायक दल को एकजुट रखना अभी पार्टी के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। राजीव शुक्ला और दूसरे प्रमुख नेता दिल्ली में पहले ही मोर्चा संभाल चुके हैं। कांग्रेस के हिमाचल प्रभारी राजीव शुक्ला ने कहा कि फिलहाल भूपेश बघेल, भूपेंद्र हुड्‌डा और मैं चंडीगढ़ जा रहे हैं। वहां जाकर देखेंगे कि विधायकों को शिमला बुलाना है या चंडीगढ़। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा किसी भी हद तक जा सकती है। हमें अपने साथियों को संभालकर रखना है।

चुनाव से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें...

गुजरात में 156 सीट जीतकर भाजपा ने नया रिकॉर्ड बनाया:मोरबी में भाजपा कैंडिडेट जीते, ब्रिज हादसे के बाद नदी में उतरकर लोगों को बचाया था

गुजरात में भाजपा ने 156 सीटों के साथ जीत का नया रिकॉर्ड बना दिया है। कांग्रेस ने 1985 में माधव सिंह सोलंकी की अगुआई में 149 विधानसभा सीटें जीती थीं। वहीं, नरेंद्र मोदी के CM रहते भाजपा ने 2002 के चुनाव में 127 सीटें जीती थीं। इस जीत के साथ भाजपा ने दोनों रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। CM भूपेंद्र पटेल 12 दिसंबर को गांधीनगर में विधानसभा के पीछे हेलीपैड मैदान में शपथ लेंगे। पढ़ें पूरी खबर...

हिमाचल में कांग्रेस को बहुमत, पार्टी ने 40 सीटें जीती:मुख्यमंत्री पर फैसला कल; भाजपा 25 पर सिमटी

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में एक बार फिर जनता ने रिवाज कायम रखते हुए राज बदल दिया है। यानी, हर चुनाव की तरह इस बार भी सत्ता बदली है। राज्य की 68 सीटों पर वोटों की गिनती समाप्त हो गई है। अंतिम नतीजों में कांग्रेस ने बहुमत के लिए जरूरी 35 सीटों का आंकड़ा पार कर लिया है। कांग्रेस 40 सीटें जीत चुकी है। पढ़ें पूरी खबर...

PM मोदी-शाह के गांव में कमल खिला:दोनों जगह पिछली बार कांग्रेस जीती, इस बार RSS और शाह ने बनाई थी अलग रणनीति

प्रधानमंत्री मोदी के गांव वडनगर और गृहमंत्री अमित शाह के गांव मानसा में इस बार कमल खिला। दोनों ही जगह पिछली बार कांग्रेस जीती थी, लेकिन इस बार वडनगर और मानसा के लिए BJP ने अलग रणनीति बनाई थी। पढ़ें पूरी खबर...