IGMC के लिए HRTC टैक्सी सेवा शुरू:डिप्टी मेयर शैलेंद्र चौहान ने दिखाई हरी झंडी, 30 रुपए होगा किराया

शिमला5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगर निगम शिमला के डिप्टी मेयर शैलेंद्र चौहान ने हरी झंडी दिखाकर इस टैक्सी सेवा को शुरू किया। - Dainik Bhaskar
नगर निगम शिमला के डिप्टी मेयर शैलेंद्र चौहान ने हरी झंडी दिखाकर इस टैक्सी सेवा को शुरू किया।

हिमाचल प्रदेश के शिमला में मशोबरा से आईजीएमसी के लिए एचआरटीसी की टैक्सी (टेंपो ट्रेवलर) सेवा शुरू हो गई है। ऐसे में अब मशोबरा से सीधे आईजीएमसी आने वाले मरीज टैक्सी के माध्यम से आ जा सकेंगे। यह टैक्सी सेवा लगभग 12 किलोमीटर का सफर तय करेगी। शनिवार सुबह नगर निगम शिमला के डिप्टी मेयर शैलेंद्र चौहान ने हरी झंडी दिखाकर इस टैक्सी सेवा को शुरू किया।

उन्होंने कहा कि मशोबरा से शिमला जाने के लिए लोगों को लॉन्ग रूट की बसों में आना पड़ता है। सबसे ज्यादा दिक्कत मरीजों और स्कूली बच्चों को होती है। ऐसे में अब टैक्सी सेवा शुरू होने से लोग सीधा ही आईजीएमसी पहुंच पाएंगे। यही नहीं यह टैक्सी सेवा उन कर्मचारियों के लिए भी फायदेमंद साबित होगी, जिनका शिमला शहर के लिए रोज आना जाना है। डिप्टी मेयर का कहना है कि पिछले काफी समय से लोग इस टैक्सी सेवा को शुरू करने की मांग कर रहे थे। अब इसे शुरू कर दिया गया है, इससे यात्रियों की यात्रा सुविधाजनक होगी।

30 रुपए रहेगा किराया

एचआरटीसी किस टैक्सी सेवा में प्रति व्यक्ति 30 रुपए एक तरफ का किराया रहेगा। टैक्सी की टाइमिंग सुबह 7:30 बजे से शुरू होगी। यह दिन भर आधे आधे घंटे के अंतराल के बाद चलती रहेगी। शाम 8 बजे तक टैक्सी सेवा लोगों को मिलती रहेगी।

गौर रहे कि अभी तक मशोबरा से शिमला आने के लिए लोगों को बसों का ही सहारा होता है। सुन्नी, तत्तापानी और करसोग जाने वाली अधिकतर बसों में लोगों को भीड़ अधिक होने के कारण दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अब 20 सीटर टैक्सी सेवा शुरू होने से लोगों को फायदा होगा।