पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Electric And Prepaid Meters Will Be Installed In The City, You Will Be Able To Recharge As Much As You Want To Spend; 500 Meters Will Be Installed In The First Phase After The Trial

जितनी जरूरत उतना खर्चा:शहर में लगेंगे बिजली के और प्रीपेड मीटर, जितनी खर्च करनी है उतना करवा सकेंगे रिचार्ज, ट्रायल के बाद पहले फेज में लगेंगे 500 मीटर

शिमला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो।

शहर में अब जल्द ही उपभाेक्ताओं काे बिजली के बिल काे भी माेबाइल के रिचार्ज की तरह जमा करने की सुविधा मिलेगी। बिजली बाेर्ड की ओर से प्रीपेड मीटर लगाने काे मंजूरी दे दी गई है। काेविड-19 के चलते मार्च में इस काम काे राेक दिया गया था। अब जल्द ही काम शुरू हाेगा और पहले चरण में 500 प्रीपेड मीटर लगेंगे। इसका ट्रायल सफल हाेने के बाद शहर के करीब 70 हजार बिजली उपभाेक्ताओं के मीटर बदले जाने हैं।

रिचार्ज वाले बिजली के मीटर बिलकुल प्रीपेड मोबाइल की तरह बैलेंस होने पर ही काम करेंगे। बैलेंस खत्म होने पर मोबाइल की तरह बिजली के मीटर बंद हो जाएंगे। हालांकि, बिजली मीटर में बैलेंस खत्म होने के बाद भी रीचार्ज के लिए 24 घंटे की मोहलत दी जाएगी। उसके बाद ही बिजली का कनेक्शन बंद किया जाएगा। अभी तक शहर के सभी सब डिविजन में करीब 218 मीटर लग पाए हैं।

सबसे ज्यादा मीटर छोटा शिमला में लगाए हैं। हालांकि, शहर के सभी क्षेत्रों में गिने चुने बिजली के मीटर लगाए हैं, लेकिन इसका ट्रायल सफल रहा है। शहर के ईदगाह सब डिविजन में 32 मीटर, रिज सब डिविजन में 46 मीटर, छोटा शिमला में 72 मीटर, संजौली में 45 मीटर, बालूगंज में 23 मीटर लगाए गए हैं।

जाे आवेदन करेगा, उसके ही मीटर बदले जाएंगे

जाे भी बिजली उपभाेक्ता प्रीपेड मीटर काे बदलने के लिए आवेदन करेगा, उसके मीटर काे बदलने के लिए प्राथमिकता दी जाएगी। एक स्मार्ट मीटर 2800 से 3000 रुपए में पड़ेगा। इसके लिए केंद्र सरकार करीब 1200 रुपए प्रति मीटर की सब्सिडी दे रही है। शेष राशि का खर्च राज्य बिजली बोर्ड और उपभोक्ताओं को उठाना पड़ेगा। पुराने बिजली के मीटरों की राशि उपभोक्ताओं के शेयर में एडजस्ट करने की योजना बनाई गई है।

इंटरनेट के माध्यम से जुड़े रहेंगे कंट्रोल रूम से

प्रीपेड मीटर में एक कार्ड रहेगा। यह कार्ड ठीक उसी तरह का होगा, जैसे डीटीएच के बॉक्स में कार्ड रहता है। कार्ड नंबर पर ही रिचार्ज कराना होगा। स्मार्ट मीटर से बिजली की रीडिंग लेने के लिए बोर्ड के कर्मचारियों को उपभोक्ता के घर जाने की जरूरत भी नहीं होगी। बोर्ड कार्यालय से रिमोट मीटरिंग के माध्यम से बिजली की खपत का पता चल जाएगा। मीटर से ऑनलाइन ही रीडिंग ले ली जाएगी। लो वोल्टेज, बिजली बंद होने और बिजली चोरी करने की सूरत में कंट्रोल रूम में अपने आप जानकारी पहुंच जाएगी। यह मीटर इंटरनेट के माध्यम से कंट्रोल रूम से जुड़े रहेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें