हिमाचल में फिर दहकने लगे जंगल:2 दिन में 16 जगहों पर लगी आग, 71.50 हेक्टेयर वन क्षेत्र प्रभावित

शिमला4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गर्मी बढ़ने के साथ हिमाचल में जंगल फिर दहकने लगे हैं। 2 दिन में प्रदेश में 16 अलग-अलग जगहों पर जंगलों में आग लगने की घटनाएं सामने आई हैं। इसमें 71.50 हेक्टेयर वन क्षेत्र प्रभावित हुआ है। 4 जून तक प्रदेश में आग के कारण 4.98 लाख रुपए की वन संपदा आग की भेंट चढ़ गई है। इस बीच बिलासपुर में सबसे ज्यादा 10 जगह आग लगने की घटनाएं घटी हैं।

शिमला के कमियाना-चेड़ी में आग लगी। धर्मशाला में 4, कुल्लू में 1 और शिमला में एक जगह आग लगने की घटना रिपोर्ट की गई है। ऊपरी शिमला में भी जंगल आग से दहक रहे हैं। आग के कारण 26 हेक्टेयर एरिया ऐसा है जहां पर प्लांटेशन प्रभावित हुआ है। 45 हेक्टेयर एरिया ऐसा है जहां पर जंगल तो नहीं है, लेकिन लोगों की घासनियां जली हैं। इससे लोगों को पशु चारे की समस्या पैदा हो गई है।

1915 जगहों पर लगी आग

इस साल प्रदेश में 1915 जगह आग लगने की घटनाएं सामने आईं। इससे 4.17 करोड़ रुपए से अधिक की वन संपदा को नुकसान पहुंचा है। आगजनी की इस घटना में 15714.88 हेक्टेयर वन क्षेत्र आग की भेंट चढ़ा है। 3070 हेक्टेयर एरिया वह क्षेत्र है जहां पर घने जंगल थे और वह आग की भेंट चढ़ गए।

8 जून तक मौसम रहेगा साफ

मौसम विभाग द्वारा 8 जून तक प्रदेश में मौसम के साफ रहने और भीषण गर्मी को लेकर जारी किए गए पूर्वानुमान ने वन विभाग की चिंता को बढ़ा दिया है। आग के कारण जहां वन संपदा को नुकसान पहुंचा रहा हैं, वहीं पर्यावरण के लिए भी खतरा बनता जा रहा है। जंगलों से उठने वाले धुएं के कारण चारों ओर वातावरण काफी धुंधला हो गया है।