हाटी समुदाय का भीम आर्मी पर पलटवार:हाटी विकास मंच ने कहा कि कुछ लोग उन्हें आगे बढ़ता नहीं देखना चाहते

शिमला6 महीने पहले
शिमला में पत्रकारों से बातचीत करते हाटी विकास मंच के सदस्य।

हिमाचल प्रदेश के शिमला में भीम आर्मी द्वारा आयोजित की गई रैली में चंद्रशेखर आजाद द्वारा हाटी समुदाय को जनजाति का दर्जा दिए जाने को लेकर कही गई बात पर हाटी समुदाय भड़क गया है। सोमवार को शिमला रैली में चंद्रशेखर आजाद ने कहा था कि सरकार हाटी समुदाय को जनजाति का दर्जा देने जा रही है। सरकार को उनके समाज की समस्याओं पर भी ध्यान देना चाहिए। जिसके बाद हाटी विकास मंच के मुख्य सलाहकार रमेश सिंगटा ने कहा कि उन्हें कुछ लाेग कमजोर समझ रहे हैं। अब जब गिरिपार काे केंद्र सरकार जनजातीय क्षेत्र का दर्जा देने के लिए अधिसूचना जारी करने वाली है, तो लाेग इसके विरोध में उतर रहे हैं। कुछ लोग हाटी समुदाय काे आगे बढ़ते हुए देखना ही नहीं चाहते हैं। ऐसे लोग सिर्फ और सिर्फ अपना फायदा देख रहें है।

हाटी विकास मंच का कहना है कि गिरिपार के करीब 3 लाख लाेगाें काे जनजातीय दर्जा मिलने से फायदा हाेगा। इसमें जनरल, SC और ST अन्य कैटेगरी के लाेग भी शामिल हैं। हम सिर्फ अपने हित की बात नहीं कर रहे हैं, बल्कि पूरे हाटी समुदाय के हित की बात कर रहे है। इसके लिए सभी लाेग 55 साल से मिलकर संघर्ष करते आ रहे हैं। कुछ लोग शिमला में जाकर सिरमौर के लोगों को भड़काने का प्रयास कर रहे हैं।