प्रियंका की हमीरपुर रैली किसने की हाईजैक:कांग्रेस नेताओं ने साधी चुप्पी, सियासी गलियारों में चर्चा- क्या ऊना में पार्टी को महसूस हो रहा खतरा

शिमला3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कांग्रेस की स्टार प्रचारक एवं राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की आज होने वाली परिवर्तन प्रतिज्ञा रैली पहले हमीरपुर में प्रस्तावित थी, लेकिन पार्टी हाईकमान ने आखिरी वक्त में इसे नादौन से ऊना के हरोली में शिफ्ट कर दिया। ऐसा क्यों किया गया, इस पर पार्टी का कोई नेता कुछ कहने को तैयार नहीं है।

मगर, सियासी गलियारों में यह चर्चा शुरू हो गई है कि क्या कांग्रेस को ऊना में कोई खतरा महसूस हो रहा है, जबकि ऊना, मुख्यमंत्री पद के दावेदार माने जा रहे मुकेश अग्निहोत्री का गृह जिला है। इससे भी बड़ी बात यह है कि प्रियंका गांधी की रैली आज मुकेश अग्निहोत्री के चुनाव क्षेत्र में ही रखी गई है।

वहीं हमीरपुर जिला से भी कांग्रेस से मुख्यमंत्री के दावेदार सुखविंद्र सिंह सुक्खू है। कुछ लोग अब इस शिफ्टिंग को इस बात से भी जोड़ रहे हैं कि प्रियंका गांधी से मुकेश की नजदीकियों की वजह से ही रैली आखिरी समय में हाईजैक की गई है। वहीं ऐसा होने से हमीरपुर के कांग्रेस नेता नाराज हैं।

डेढ़ सप्ताह पहले तय शेड्यूल के अनुसार, ऊना में आज रोड शो होना था, जबकि दोपहर के वक्त हमीरपुर में रैली रखी गई थी, लेकिन कांग्रेस ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए प्रियंका का कुल्लू, ऊना और चंबा का रोड शो रद्द कर दिया। अब नादौन के रैली स्थल में भी आखिरी वक्त में बदलाव किया गया है।

आखिरी रैली सिरमौर के सतौन में करेंगी प्रियंका

प्रियंका गांधी की आखिरी रैली सिरमौर से सतौन में 10 नवंबर को होगी। इसी दिन दोपहर बाद शिमला में उनका रोड शो भी रखा गया है। 10 नवंबर को ही प्रदेश में चुनाव प्रचार थम जाएगा।