• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Himachal Pradesh Cyber Robbers Online Fraud Cheating In The Name Of Cutting Electricity Connection Electricity Board Appeal

साइबर लुटेरों ने खोजा नया तरीका:बिजली कनेक्शन काटने की दे रहे धमकी; विद्युत बोर्ड की अपील, डाउनलोड न करें ऐप

शिमला7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

हिमाचल प्रदेश में बिजली मीटर लगाने, बिल चुकाने और कनेक्शन काटने के नाम पर निरंतर उपभोक्ताओं के साथ ऑनलाइन ठगी के मामले बढ़ रहे है। साइबर लुटेरे ऑनलाइन माध्यम से लोगों को ठगी का शिकार बना रहे है।

इस पर राज्य विद्युत बोर्ड के प्रबंध निदेशक पंकज डडवाल ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि IT प्रणाली से बोर्ड का कुछ लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि कोई शातिर किसी व्यक्ति को फोन कर बिजली कनेक्शन देने या काटने की बात करता है तो उसके झांसे में न आए।

ऑनलाइन लुटेरे लोगों से फोन पर एक एप्लिकेशन डाउनलोड करने को बोलते हैं और बाद में ऐप पर व्यक्तिगत जानकारी हासिल करते ही संबंधित व्यक्ति के अकाउंट से धोखाधड़ी को अंजाम दे देते हैं। साइबर लुटेरे ग्राहक को बिल भरने के लिए 10 दिन का नोटिस देते है और 10 दिन में बिल नहीं चुकाने पर मीटर काट देने की धमकी दी जा रही है।

बिजली बोर्ड नहीं करता फोन

पंकज डडवाल ने कहा कि बिजली बोर्ड किसी भी उपभोक्ता को बिल जमा नहीं करने पर इस तरह के फोन नहीं करता है। उन्होंने उपभोक्ताओं से अपील है कि वह अपना ऑनलाइन आवेदन लेनदेन सहित विभिन्न कार्यप्रणाली की जानकारी विद्युत बोर्ड की प्रमाणित वेबसाइट के माध्यम से लें और लेनदेन करते समय पूरी सावधानी बरतें।

टोल-फ्री नंबर पर दें धोखाधड़ी की सूचना

MD ने कहा है कि प्रमाणित HBSEBL स्मार्ट मीटर ऐप को ही गूगल प्ले-स्टोर या ऐप्पल ऐप स्टोर के माध्यम से डाउन लोड करें। उन्होंने इस तरह की धोखाधड़ी की सूरत में आवाहन किया है कि बोर्ड से सम्बन्धित ऐसे मामले के सामने आने पर टोल फ्री नम्बर 1800-180-8060 या 1912 पर इस सम्बन्ध में जानकारी दी जा सकती है।