पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आगे भी ऐसी ही रहेगी व्यवस्था:किसी भी वीवीआईपी मूवमेंट में अब रिपन भी तैयार राहुल गांधी-नड्डा के आने पर बनाए थे स्पेशल वार्ड

शिमला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एंबुलेंस, ब्लड बैंक भी अलग से - Dainik Bhaskar
एंबुलेंस, ब्लड बैंक भी अलग से

किसी भी वीवीआईपी मूवमेंट के लिए अब रिपन भी तैयार रहेगा। शुक्रवार काे शिमला शहर में काफी वीवीआईपी मूवमेंट थी। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी समेत कई वीवीआईपी शहर में पहुंचे थे। जिसके लिए आईजीएमसी के साथ-साथ डीडीयू अस्पताल में भी पूरी तैयारियां थी।

यहां पर स्पेशल वार्ड के साथ-साथ एंबुलेंस, ब्लड बैंक पहले ही तैयार कर दिए गए थे, ताकि जरूरत पड़ने पर किसी भी चीज की कमी ना रहे। हालांकि यह व्यवस्थाएं पहले भी हाेती थी, मगर पहले आईजीएमसी में स्पेशल वार्ड और ब्लड बैंक तैयार किया जाता था।

डीडीयू से एंबुलेंस वीवीआईपी ड्यूटी में लगाई जाती थी। मगर इस बार दाेनाे जगहाें पर यह तैयारी की गई थी, ताकि जरूरत पड़ने पर यह काम आ सके। डीडीयू अस्पताल में नया ओपीडी ब्लाॅक बनने के बाद यहां पर बेहतर स्पेशल वार्ड तैयार किए गए हैं, जिसमें अब हर वीवीआईपी काे जरूरत पड़ने पर रखा जा सकता है।

इसलिए थी दाेनाें जगह तैयारी

आईजीएमसी और डीडीयू में वीवीआईपी के लिए स्पेशल वार्ड, ब्लड बैंक और एंबुलेंस इसलिए भी तैयार रखी गई क्याेंकि शहर में ज्यादा वीवीआईपी मूवमेंट थी। इससे पहले एक वीवीआईपी मूवमेंट हाेती थी ताे यहां पर आईजीएमसी में ही तैयारी की जाती थी। यहां पर 633 से 635 नंबर कमराें काे बुक कर दिया जाता था।

मगर इस बार दाे-दाे वीवीआईपी शहर में आए थे, लिहाजा दाेनों अस्पतालाें में व्यवस्थाएं कर दी गई थी। राहुल गांधी और जेपी नड्डा दाेनाें पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह काे श्रद्धांजलि देने के लिए आए थे। हालांकि यह दाेनाें अलग-अलग समय पर शिमला पहुंचे। जेपी नड्डा ने रिज मैदान पर ताे राहुल गांधी ने कांग्रेस भवन में पूर्व सीएम काे श्रद्धांजलि दी।

डीडीयू अस्पताल में वीवीआईपी मूवमेंट के लिए स्पेशल वार्ड बुक थे, ब्लड बैंक में भी पर्याप्त मात्र में ब्लड रखा हुआ था। इसके अलावा एंबुलेंस भी वीवीआईपी ड्यूटी के लिए तैयारी थी। यह सभी चीजें शाम तीन बजे तक पूरी तरह से तैयार थी। हालांकि प्राेटाेकाॅल के तहत यह सभी वीवीआईपी ड्यूटी के लिए तैयार रखना हाेता है।

मगर पहले यहां पर स्पेशल वार्ड अच्छे नहीं थे, ताे आईजीएमसी में बुकिंग रहती थी। मगर अब नए ओपीडी ब्लक में पूरी सुविधाएं हैं। अब भविष्य में जरूरत पड़ने पर यहां पर वीवीआईपी ड्यूटी में सभी सुविधाएं दी जाएंगी। डाॅ. रविंद्र माेक्टा, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी, आईजीएमसी शिमला

खबरें और भी हैं...