• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • In March Last Year, After The Rebel three, The Posters Of The Film Suryavanshi Were Now Seen, Only 20% Of The Audience Reached On The First Day.

600 दिन बाद राजधानी का सिंगल स्क्रीन सिनेमा शुरू:पिछले साल मार्च में बागी-थ्री के बाद अब दिखे फिल्म सूर्यवंशी के पाेस्टर, पहले दिन 20% दर्शक ही पहुंचे

शिमलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में फिल्म देखने के शाैकीनाें के लिए लगभग 600 दिन बाद शाही थियेटर खुला है। यहां शुक्रवार काे सूर्यवंशी फिल्म लगी। पहले दिन करीब 20 फीसदी बुकिंग हुई। हालांकि, पहले दिन लाेगाें की संख्या कम रही, लेकिन धीरे धीरे इनकी संख्या में इजाफा हाे सकता है। यही नहीं शहर में फिल्माें के पाेस्टर भी नजर आए। पिछले साल शहर में मार्च के बाद बागी थ्री मूवी के पाेस्टर दिखे थे, अब दाेबारा से पाेस्टर लगने शुरू हुए हैं।

शहर में पाेस्टर लगाने वाले पिंटू कुमार का कहना है कि वे कई सालाें से पाेस्टर लगा रहे हैं। जैसे ही नई फिल्म रिलीज हाेती है, मैं पाेस्टर लगाने शहर की अलग अलग जगह के लिए निकलता हूं। अब भी लाेग पाेस्टर देखकर फिल्म देखने के लिए आते हैं। उनका कहना है कि इससे हमारा राेजगार जुड़ा हुआ है। जबसे काेराेना आया, तब से थियेटर बंद पड़े हुए थे। इस कारण मुश्किलाें का सामना करना पड़ रहा था। अब जब थियेटर खुले हैं, काफी हद तक राहत मिली है।

शिमला और सिनेमा का पुराना नाता
राजधानी शिमला और सिनेमा का बहुत पुराना नाता रहा है। यहां बहुत सारी फिल्मों की शूटिंग तो होती ही है, साथ ही फिल्मों को थियेटर में देखने का क्रेज भी यहां के लोगों का खास है, लेकिन कोरोना काल के बाद से स्थिति ऐसी बन चुकी है कि शिमला के सिनेमा घर बंद हाे रहे हैं। हालांकि, शाही थियेटर ने फिर से इसे लाेगाें के लिए इसे शुरू करने की पहल की है, लेकिन रिट्ज जैसे सिनेमा हाॅल बंद हाे गए हैं। दो साल से बड़ी फिल्में रिलीज न होने से दर्शकोें ने सिनेमाघरों का रुख नहीं किया। महाराष्ट्र और मुंबई में सिनेमाघरों के बंद होने से नई फिल्में रिलीज नहीं हुई। अब मुंबई के सिनेमाघर खुल गए हैं और रोहित शेट्टी की सूर्यवंशम रिलीज हो रही है। इसके बाद कई ओर बड़ी फिल्में रिलीज होने की कतार में हैं।

थियेटर में फिल्म देखना पसंद करते हैं लाेग
शहर की बात करें ताे यहां पर कई लाेग फिल्माें काे थियेटर में देखने के शाैकीन हैं। फिलहाल यहां दाे ही सिनेमा थियेटर हैं। एक टूटीकंडी में है, जबकि एक ओल्ड बस स्टैंड के साथ शाही थियेटर है। पुराने समय की बात करें ताे शिमला के लाेग थियेटर में फिल्म देखने के लिए काफी उत्साहित रहते थे। ऐसे में काेविड के बाद से लाेगाें के मनाेरंजन के साधन बंद हाे गए थे। अब जब सिनेमा हाॅल खुले है ताे लाेग अब थियेटराें में फिल्म देख सकेंगे।

कोरोनाकाल में जब थियेटर बंद थे तो ओटीटी प्लेटफार्म ने घर बैठे लोगों को मनोरंजन किया। तीन महीने से एक साल की सब्सक्रिप्शन लेकर लोगों ने मोबाइल फोन पर ही फिल्मों का लुत्फ लिया, लेकिन अब थियेटर दोबारा खुल गए हैं और बड़े पर्दे पर फिल्मों की वापसी हो रही है तो ओटीटी प्लेटफार्म के फीका पड़ने की संभावना है।

रिट्ज थियेटर घाटे के चलते बंद
​​​​​​​
घाटे चलते रिट्ज थियेटर बंद हाे गया है। यहां रिज मैदान और मालरोड पर घूमने आने वाले युवा भी दोस्तों के साथ फिल्में देखने का प्लान बना कर रिट्ज थियेटर पहुंच जाया करते थे, लेकिन अब थियेटर के बंद होने के बाद यह सब नहीं हो पाएगा। कोविड के दौरान आर्थिक मंदी की मार फिल्म उद्योग पर पड़ी। इस दौरान कोई भी फिल्म बड़े पर्दे पर रिलीज ही नहीं हुई। सभी फिल्में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर ही रिलीज हुई, जिससे थियेटर मालिकों को नुकसान उठाना पड़ा। इसी नुकसान को देखते हुए इस थियेटर को बंद करने का फैसला लिया गया।

खबरें और भी हैं...