• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • In The Study So Far, 73 Snow Leopards Were Found In Himachal, Captured In Trap Cameras At 10 Snowy Places, Himachal Became The First State In The Conservation And Evaluation Of Snow Leopards

स्नो लेपर्ड के संरक्षण और मूल्यांकन में हिमाचल अव्वल:राज्य में अब तक के अध्ययन में मिले 73 हिम तेंदुए, 10 बफीर्ली जगहों पर ट्रैप कैमरों में दिए दिखाई

शिमलाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हिमाचल में बर्फानी तेंदुए (स्नो लेपर्ड) का कुनबा बढ़ रहा है। अभी तक 73 बर्फानी तेंदुओं का पता चल चुका है। यह आंकड़ा 100 के पार भी जा सकता है। राज्य के ऊंचाई वाली जगहों लाहौल-स्पीति, चंबा के पांगी समेत किन्नौर और कुल्लू की भी कुछ जगहों पर स्नो लेपर्ड देखे गए हैं। हिमाचल बर्फानी तेंदुओं का संरक्षण और उनके मूल्यांकन की प्रक्रिया करने वाला देश का पहला राज्य बना है।

हिमाचल का वन्य प्राणी प्रभाग प्रकृति संरक्षण फाउंडेशन बेंगलुरु की मदद से स्नो लैपर्ड पर काम कर रहा है। वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि यह दुर्लभ प्राणी विलुप्त की कगार पर हैं। ऐसे में हिमाचल प्रदेश इनके संरक्षण में काम कर रहा है, जिसका नतीजा ये है कि अब इनका कुनबा बढ़ना शुरू हुआ है। लोगों समेत वन्य जीवों के प्रति खासा लगाव रखने वाले लोगों के लिए हिम तेंदुआ अर्थात स्नो लेपर्ड को देखना अपने आप में रोमांचक अनुभव है।

कुनबा बढ़ा तो हिमाचल वाइल्ड लाइफ में जुड़ेगा नया अध्याय

स्नो लेपर्ड की गिनती के लिए एक अभियान चलाया गया है। अभी तक 73 हिम तेंदुओं का पता चला। ऐसे में अभी तक अध्यन के बाद वाइल्ड लाइफ यह मान रहा है कि स्नौ लेपर्ड के विचरण और आदतों का अध्ययन करने से यह अनुमान लगाया जा रहा है कि इनकी संख्या 100 के करीब भी हो सकती है। यदि ऐसा होता है तो हिमाचल की वाइल्ड लाइफ में यह नया अध्याय जुड़ेगा।

हिमाचल में स्नौ लैपर्ड की संख्सा 73 हो गई है।
हिमाचल में स्नौ लैपर्ड की संख्सा 73 हो गई है।

इन दस स्थानों पर चला हिम तेंदुए का पता
वन विभाग की मुखिया डॉ. सविता बताया कि भागा, हिम, चंद्र, भरमौर, कुल्लू, मियार, पिन, बसपा, ताबो और हंगलंग में हिम तेंदुए का पता चला है। भागा के अध्ययन से यह पता भी चला है कि बर्फानी तेंदुए की एक बड़ी संख्या संरक्षित क्षेत्रों के बाहर है। प्रदेश में स्नो लैपर्ड करीब 23 हजार वर्ग किमी में विचरण करते पाए गए हैं। इनमें धौलाधार, कुल्लू, चंबा, किन्नौर और लाहौल स्पीति का क्षेत्र मुख्य रूप से शामिल है। एक स्टडी एनसीएफ ने की थी जिसके अनुसार हिमाचल में करीब 73 स्नो लेपर्ड देखे गए हैं। स्नो तेंदुआ की गणना कैमरा ट्रैप के माध्यम से की जाती है। लोगों की सूचना के बाद भी कैमरे फिक्स किए जाते हैं और उसी आधार पर उनकी गणना भी जाती है।

स्नो लेपर्ड हिमाचल प्रदेश का राज्य पशु

हिमाचल प्रदेश में लाहौल स्पीति, किन्नौर और चम्बा के पांगी सहित अन्य सात बर्फ वाली जगहों पर कुछ समय पहले हुए सर्वे में करीब 49 बर्फानी तेंदुओं के होने की पुष्टि हुई। उसके बाद अन्य इलाकों में इसका आकलन किया गया। ताजा अध्ययन के मुताबिक अब इनकी संख्या 73 हो गई है। इतना ही नहीं यहां पर स्नो लेपर्ड का शिकार बनने वाले जानवरों का भी अध्यनन किया गया है।

खबरें और भी हैं...