पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Krishna Became An Inspiration For Others… The Family Carried The Sick 85 Year Old Woman On A Chair A Kilometer Away And Brought Her To The Vaccination Center

वैक्सीनेशन की जिद:दूसरों के लिए प्रेरणा बनी कृष्णा; परिवार ने 85 साल की वृद्धा को एक किमी. दूर कुर्सी पर उठाकर पहुंचाया वैक्सीनेशन सेंटर

शिमला8 दिन पहलेलेखक: जोगेंद्र शर्मा
  • कॉपी लिंक
कृष्णा देवी को बांस में कुर्सी बांधकर सेंटर तक पहुंचाया गया। - Dainik Bhaskar
कृष्णा देवी को बांस में कुर्सी बांधकर सेंटर तक पहुंचाया गया।
  • घर से वैक्सीनेशन सेंटर तक सड़क न होने की वजह से उन्हें कुर्सी पर बिठाकर लाया गया

मुस्कुराते हुए कृष्णा देवी कहती हैं कि मैंने अपने घरवालों से सुना वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना संक्रमण कम होता है। ऐसे में मेरे मन में भी इच्छा थी कि मैं भी कोरोना वैक्सीन एक बार जरूर लगवाऊं। गांव में वैक्सीनेशन सेंटर बना तो परिवार से जिद्द करके सेंटर तक जाने की इच्छा जताई। परिवार के लोगों ने भी मदद की और कुर्सी से कृष्णा देवी को वैक्सीनेशन सेंटर तक पहुंचाया।

बीमार होने के बावजूद कृष्णा देवी के इस तरह से वैक्सीनेशन लगाने के जुनून को देखते हुए वह दूसरों के लिए प्रेरणा बनी है। दरअसल, कृष्णा देवी बुजुर्ग होने के कारण अकसर बीमार रहती है। इनके पेट में तकलीफ रहती है। बुढ़ापे के इस पड़ाव के बावजूद इनका जुनून और जज्बा देखते ही बनता है।

रोहड़ू तहसील के तंदाली गांव में 45 वर्ष की आयु से अधिक और बुजुर्ग लोगों के लिए वैक्सीनेशन सेंटर बनाया गया था। यहां पर रोहड़ू सिविल अस्पताल से वैक्सीनेशन करवाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची थी। वैक्सीनेशन सेंटर से कृष्णा देवी का घर लगभग 1 किलोमीटर दूर है। घर तक सड़क सुविधा न होने के कारण उन्हें पगडंडी के रास्ते कुर्सी पर उठाकर ही सेंटर तक पहुंचाना पड़ा।

हम खुद सुरक्षित रहेंगे तो हमारे संपर्क में आने वाले भी सुरक्षित होंगे

कृष्णा देवी के बेटे सुंदरलाल शर्मा का कहना है कि माता कृष्णा देवी काफी समय से वैक्सीन लगाने के लिए कह रही थी। पंचायत से संपर्क किया गया तो पता लगा कि गांव में ही उन्हें वैक्सीन लगेगी। जब कृष्णा देवी को बताया गया तो उन्होंने तुरंत कहा कि वैक्सीन लगवानी है। ऐसे में हम उन्हें वैक्सीन सेंटर तक कुर्सी पर उठाकर ले गए। उनका कहना है कि बुजुर्ग होने के बावजूद वह वैक्सीन लगाने में नहीं डरी और दूसरे लोगों को भी प्रेरित कर रही हैं।

शुरू में बुखार आए तो घबराएं नहीं

आईजीएमसी के डॉ राहुल गुप्ता का कहना है कि वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। इसको लगाने से किसी तरह का शरीर पर नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है। कुछ लोगों को वैक्सीन लगाने के बाद हल्का बुखार आता है। ऐसे में घबराने की बिलकुल भी जरूरत नहीं होती है।

वैक्सीन के बाद आने वाला बुखार कुछ ही घंटों के बाद अपने आप ठीक हो जाता है। लंबे समय के बाद भी वैक्सीन का कोई भी बुरा प्रभाव शरीर पर नहीं पड़ता है। बल्कि कोरोनावायरस से लड़ने के लिए यह हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है।

खबरें और भी हैं...