सियासत:पार्टी में धड़ेबंदी के लिए जगह नहीं, इकट्‌ठा होकर भाजपा के खिलाफ लड़ें: रजनी

शिमलाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रजनी पाटिल - Dainik Bhaskar
रजनी पाटिल
  • कांग्रेस में गुटबाजी पर प्रदेश प्रभारी की नेताओं को दो टूक नसीहत

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नेताओं के बीच पिछले काफी दिनाें से चली आ रही जुबानी जंग पार्टी हाईकमान के पास पहुंच गई है। इससे पार्टी काे पहुंच रहे नुकसान काे देखते हुए पार्टी प्रभारी काे हस्ताक्षेप करना पड़ा है। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल ने पार्टी के नेताओं काे दाे टूक शब्दाें में कह दिया है कि पार्टी में धड़ेबंदी काे हरगीज भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इस संबंध में  रजनी पाटिल ने  निर्देश जारी कर दिए है। उन्हाेंने स्पष्ट कह दिया है कि कोई भी पार्टी नेता अपनी बात मीडिया के माध्यम से नही रखेगा और इस पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई दी गई है। उन्होंने खेद जताते हुए कहा कि पार्टी के नेता पिछले काफी समय से मीडिया के माध्यम से आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं।

उन्हाेंने कहा कि इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इससे पार्टी की साख काे नुकसान पहुंच रहा है। इससे पार्टी किसी भी सूरत में सहन नहीं करेगी। पाटिल ने कहा कि पार्टी के लिए अनुशासन सबसे पहले है। सभी नेता लक्ष्मण रेखा के अंदर रहे, और भाजपा के खिलाफ लड़ाई लड़ें। उन्हाेंने कहा कि कांग्रेस हाईकमान स्थिति पर नज़र बनाए हुए है।  

कोरोना काल में सरकार जनता की मदद करने में असफल रही
रजनी पाटिल ने कहा कि कोरोना काल में सरकार जनता की मदद करने में असफल रही। लोगों को सस्ता राशन व बिजली देने के अधिकार छिने गए हैं, लोगों के ख़िलाफ़ हज़ारों मुक़दमे दर्ज हुए हैं यहाँ तक की जनजातिय इलाके की महिलाओं काे भी नही बक्शा गया हैं। उन्होंने कहा भाजपा  सरकार चुनावी वायदे पूरे नहीं कर पाई है, राष्ट्रीय राजमार्ग बने नही, इन्वेस्टर मीट कागजी है, और कर्जा बढ़ रहा है। इसलिए उन्हाेंने सब नेताओं काे अपनी ऊर्जा भाजपा के कुशासन के खिलाफ इस्तेमाल करने में लगाने की नसीहत दी है।

खबरें और भी हैं...