राम मंदिर में तीन दिन तक चलेगा शिव विवाह:10 से 12 मार्च तक होंगे कार्यक्रम, उज्जैन के पंडित भरत महाराज करवाएंगे विवाह संपन्न

शिमला9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राम मंदिर - Dainik Bhaskar
राम मंदिर
  • किस तिथि को क्या रस्म निभाई जाएगी

काेराेना काल के दाैरान पहली बार शिमला के राम मंदिर में शिवरात्री पर भव्य कार्यक्रम हाेगा। इस बार शिवरात्रि में शिव पार्वती का विवाह तीन दिन तक पूरी रस्मों-रिवाजों के साथ होगा। मेहंदी की रस्म से लेकर बटना लगेगा तो बारात भी निकलेगी। विवाह काे संपन्न करवाने लिए उज्जैन से विशेषताैर पर आचार्य भरत महाराज शिमला पहुंचेंगे।

ब्रह्मा, विष्णु, महेश, नारद समेत अन्य मूर्तियां जाे शिवजी की बारात में शामिल हाेंगे। कृष्ण मंदिर गंज से भगवान भाेले की बारात धूमधाम से निकलेगी। जिसमें सैकड़ाें लाेग शामिल हाेंगे। तीन दिन के इस कार्यक्रम के दाैरान विवाह में आयाेजित हाेने वाली सभी रस्में निभाई जाएंगी। भगवान शिव की पिंडी का भी विशेष ताैर श्रृंगार किया जाएगा, जिसमें चाराें पहर उनकी पूजा अर्चना की जाएगी।

10 मार्च को मेहंदी रस्म
10 मार्च काे श्री राम मंदिर में हल्दी और शगुन की मेहंदी की रस्म दाेपहर दाे बजे शुरू हाेगी। इसी दिन हल्दी तेल बटना की रस्म काे पूरा किया जाएगा। महिलाएं माता पार्वती काे हल्दी तेल बटना लगाकर रस्माें काे पूरा करेंगी और माता पार्वती के विवाह के गीत गाएं जाएंगे। इसके साथ ही विवाह में जाे भी महिलाएं उपस्थित हाेंगी, वह भी अपने हाथाें में मेहंदी लगवाएंगी।

11 मार्च काे निकलेगी बारात
11 मार्च को सुबह सुबह 11 बजे ढाेल नगाड़े, बैंड बाजे के साथ शिवजी की बारात पालकी में गंज बाजार श्री राधा कृष्ण मंदिर से निकलेगी। इस दाैरान शिवजी के साथ ब्रह्मा, विष्णु, महेश, भूत प्रेत सभी बाराती शामिल हाेंगे। वहीं स्थानीय निवासी पगड़ियां पहन कर बारात में शामिल हाेंगे। यह बारात पहले गंज मंदिर से सीटीओ जाएगी, यहां से लाेअर बाजार, शेरे ए पंजाब से हाेते हुए श्री राम मंदिर के लिए पहुंचेगी

बाजार में जगह -जगह बारात का भव्य स्वागत किया जाएगा। इसके बाद शिवजी की बारात का श्री राम मंदिर पहुंचने पर सूद सभा शिमला की ओर से भव्य स्वागत किया जाएगा। विवाह के लिए एक पंडित उज्जैन से बुलाया गया है और स्थानीय पंडित भी इसमें अपना सहयाेग देंगे। इस दिन बारात स्वागत के साथ ही भंडारा भी शुरू हाेगा। उसके बाद कन्या दान हाेगा।

12 मार्च काे हाेगी विदाई
12 मार्च को विदाई समाराेह का आयाेजन किया जाएगा। यह अायाेजन ठीक 11 बजे श्री राम मंदिर में शुरू हाेगा। जिसमें सैकड़ाें लाेग भाग लेंगे। माता पार्वती की धूमधाम से विदाई की जाएगी। इस अायाेजन के लिए श्री राम मंदिर काे रंग बिरंगी लाइट्स और फूलाें से सजाया जाएगा।

एक साल से नहीं हुआ काेई कार्यक्रम
शिमला के राम मंदिर समेत किसी भी मंदिर में बीते एक साल से काेई भी कार्यक्रम आयाेजित नहीं हुआ है। बीते वर्ष 22 मार्च के बाद यहां पर सभी कार्यक्रम बंद थे। एक साल में पहली बार शिव विवाह आयाेजित किया जा रहा है। ऐसे में शहरवासियाें ने इसे लेकर पहले ही तैयारियां शुरू कर दी है। मंदिर काे विशेष ताैर पर सजाया जाएगा, ताकि इस भव्य कार्यक्रम की शाेभा बढ़ाई जा सके।

राम मंदिर में इस बार शिवरात्री पर शिव विवाह कार्यक्रम तीन दिन तकआयाेजित हाेगा। 10 से 12 मार्च तक यहां पर कार्यक्रम हाेंगे। उज्जैन से विवाह की रस्माें काे पूरा करने के लिए विशेष ताैर पर आचार्य भरत महाराज शिमला आएंगे। शहर वासियाें से आग्रह है कि वह शिव विवाह में पहुंचे और यहां पर काेराेना नियमाें का पूरा पालन करें।
-संजय सूद, अध्यक्ष सूद सभा शिमला

खबरें और भी हैं...