जिला परिषद की विशेष बैठक:बर्फबारी और ओलावृष्टि से नुकसान की तुरंत भरपाई काे लेकर जिप बैठक में प्रस्ताव पारित

शिमला6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला परिषद की विशेष बैठक में माैजूद जिप सदस्य और अधिकारी। - Dainik Bhaskar
जिला परिषद की विशेष बैठक में माैजूद जिप सदस्य और अधिकारी।

जिला परिषद शिमला की विशेष बैठक बुधवार काे बचत भवन सभागार में जिला परिषद अध्यक्ष चंद्रप्रभा नेगी की अध्यक्षता में आयोजित की गई। अध्यक्ष ने बताया कि जिला स्तर पर अनुसूचित जाति, जनजाति और परंपरागत वन समिति का गठन किया गया है। इसमें जिला परिषद अध्यक्ष चंद्रप्रभा नेगी, विशाल शांकटा और उज्जवल सेन मेहता को सदस्य चयनित किया गया है। वहीं जिला के प्रत्येक उपमंडल स्तर पर भी तीन सदस्य वन समितियों का गठन किया गया है।

बैठक में 15वें वित्त आयोग से संबंधित धनराशि की संस्कृति और विभिन्न विकास कार्यों पर विस्तृत चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि जिला में किए जाने वाले विभिन्न विकास कार्यों से संबंधित एक समिति का गठन किया गया है। समिति सभी सदस्यों से सुझाव एकत्रित करके उन्हें सदन में पारित करने के लिए प्रेषित करेंगी।

उन्होंने बताया कि जिला शिमला में बेमौसमी बर्फबारी, ओलावृष्टि और भारी बारिश से बगीचों व फसलों को काफी नुकसान हुआ है। किसानों व बागवानों को राहत प्रदान करवाने के उद्देश्य से आज सदन में प्रस्ताव पारित किया गया, जिसे प्रभावित बागबानों एवं किसानों को तुरंत राहत प्रदान करने के लिए मामला सरकार को भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि बागबानी एवं कृषि से संबंधित बनी समिति की बैठक विभागीय अधिकारियों के साथ जल्द आयोजित की जाएंगी।

उन्होंने बताया कि जिला में तकनीकी कर्मचारियों की कमी को पूरा करने का प्रस्ताव सरकार को भेजा जाएगा ताकि पदों के सृजन होने से विकास कार्य में तेजी लाई जा सके। बैठक में जिला परिषद उपाध्यक्ष सुरेंद्र रेटका, अतिरिक्त उपायुक्त अपूर्व देवगन, जिला पंचायत अधिकारी विजय बरागटा, विभिन्न जिला परिषद सदस्य एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...