कोरोना काल:रोहडू के विधायक मोहन लाल ब्राक्टा समेत 317 नए संक्रमित, प्रदेश में काेराेना से सात लाेगाें की माैत, अब तक 159 की गई जान

शिमला2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो

हिमाचल में शनिवार काे काेराेना से सात और लाेगाें की मौत हुई है। इससे प्रदेश में मरने वालाें का आंकड़ा बढ़कर 159 के पास पहुंच गया है। इसमें दाे माैते शिमला में हुई है। तीन कांगड़ा में और ऊना एक और मंडी में एक व्यक्ति ने काेराेन से दम ताेड़ा है।

यह सभी मृतक अन्य बीमारियाें से भी ग्रस्ति थे। प्रदेश में शनिवार को विधायक मोहन लाल ब्राक्टा सहित काेराेना के 317 नए मामले सामने आए हैं। इसमें बिलासपुर में 24, चंबा में 11, हमीरपुर में 6, कांगड़ा में 55, किन्नाैर में 2, कुल्लू में 13, लाहाैल स्पीति में 4, मंडी में 42, शिमला में 49, सिरमाैर में 13, साेलन में 77 और ऊना में 21 नए काेराेना के मामले सामने आए है।

इससे प्रदेश में काेराेना संक्रमण का आंकड़ा बढ़ कर 13996 के पास पहुंच गया है। इसमें काेराेना के 4104 एक्टिव केस है। जबकि आज 182 काेराेन मरीज ठीक हुए है। इससे प्रदेश में काेराेना से जंग जीतने वालाें का आंकड़ा बढ़ कर 9710 के पास पहुंच गया है। शनिवार को शिमला विकासनगर, खलीनी, कुफ्टाधार, बालूगंज, ढली, समरहिल, आईजीएमसी, सुन्नी, मशोबरा, कोटखाई, टिक्कर, रामपुर, नेरवा, मंडी और सेना अस्पताल से 31 नए मामले आए हैं।

स्वास्थ्य विभाग ने आज 1987 लाेगाें की काेविड जांच की है। इसमें से 817 लाेगाें की जांच रिपाेर्ट नेगेटिव आई है जबकि 1126 लाेगाें की जांच रिपाेर्ट आना अभी बाकी है। आज प्रदेश में काेराेना की रिकवरी रेट 69.37 प्रतिशत है।

रोहड़ू के विधायक मोहनलाल ब्राक्टा कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। विधायक ने स्वयं कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी सोशल मीडिया के माध्यम से दी है। कोरोना संक्रमित होने के बाद विधायक अपने घर पर ही आइसोलेट हो गए हैं। उनके साथ उनके परिजन भी आइसोलेट हुए हैं। विधायक मोहन लाल ब्राक्टा बीते बारह दिन से किसी भी सार्वजनिक दौरे पर नहीं गए थे। विधानसभा सत्र के बाद से विधायक शिमला में ही थे।

इसी दौरान किसी के संपर्क में आने से वह कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। कोरोना के लक्षण आने के बाद शुक्रवार को उन्होंने शिमला में ही अपना टेस्ट करवाया। विधायक की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। विधायक ने सोशल मीडिया के माध्यम से संदेश दिया है कि किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है। वह बीते बारह दिन से रोहड़ू में किसी भी कांग्रेस के पदाधिकारी या कार्यकर्ता के संपर्क में नहीं आए हैं और न ही क्षेत्र में कहीं का दौरा किया है।

खबरें और भी हैं...