पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राजनीति:पंचायत चुनाव में प्रत्याशियाेें के कागजाें की हुई स्क्रूटनी

शिमला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • जिन्होंने नामांकन में काेई डाॅक्यूमेंट नहीं लगाया था, उनसे दाेबारा कागज मांगे गए

पंचायत चुनाव में साेमवार काे स्क्रूटनी प्रक्रिया हुई। इसमें सभी पंचायताें में प्रत्याशियाें काे बुलाया गया था। सुबह 11 बजे से तीन बजे तक स्क्रूटनी प्रक्रिया चली। प्रत्याशियाें के सभी कागजाें की जांच दाेबारा से की गई। इस दाैरान जिन प्रत्याशियाें ने नामांकन में काेई डाॅक्यूमेंट नहीं लगाया था, उनसे दाेबारा से कागज मांगे गए।

वहीं अगर किसी प्रत्याशियाें ने कागजाें में काेई गलती कर दी थी ताे उसे भी ठीक किया गया। दाेबारा से प्रत्याशियाें काे उनके नामांकन पत्र काे बताया गया ताे अधिकारियाें ने जांच के बाद उसे प्राेसेसिंग के लिए डाल दिया। स्क्रूटनी के दिन सभी प्रत्याशी अपनी-अपनी पंचायताें में पहुंचे थे।

पंचायताें के बाहर राजनीति, कहीं सांठगांठ तो कहीं वादे

पंचायत चुनाव में भले ही स्क्रूटनी काे लेकर प्रत्याशियाें काे बुलाया गया था, मगर पंचायताें में जहां स्क्रूटनी प्रक्रिया चलती रही, वहीं पंचायताें के बाहर जमकर राजनीति हुई। यहां पर प्रत्याशी एक दूसरे काे बिठाने की फिराक में रहे। जहां प्रधान पद के उम्मीदवार, उप प्रधानाें के लिए खड़े उम्मीदवाराें से सांठगांठ करते रहे,वहीं कई वार्ड सदस्याें काे निर्विराेध जिताने का भी लालच देते रहे।

इसमें प्रधान पद के उम्मीदवार उपप्रधान पद के लिए खड़े उम्मीदवाराें के साथ लड़कर एक दूसरे काे वाेट दिलाने का आश्वासन देकर अपनी जीत पक्की करने में जुटे रहे। इसके लिए दिनभर पंचायताें के बाहर राजनीति हुई।

स्क्रूटनी के बहाने प्रचार भी
पंचायताें में एक तरफ जहां स्क्रूटनी का काम चल रहा था, वहीं कई प्रत्याशी पंचायताें के बाहर प्रचार भी करते रहे। पंचायताें के आसपास के लाेगाें से प्रत्याशियाें ने संपर्क भी किया व उन्हें कई तरह के वादे कर अपनी तरफ खींचने का प्रयास किया। अब जहां पंचायत चुनाव की तिथियां नजदीक आती जा रही है, इससे प्रत्याशी अपना समय बर्बाद नहीं करना चाहते हैं। ऐसे में आज जैसे भी प्रत्याशियाें काे माैका मिलता रहा वह अपने अपने तरीके से प्रचार भी करते रहे।

आज हाेगा आखिरी दांव
अपनी जीत पक्की करने के लिए या पंचायत काे निर्विराेध करने के लिए मंगलवार का दिन अहम है। मंगलवार काे प्रत्याशियाें काे बिठाने के लिए जमकर राजनीति हाेगी। हर प्रत्याशी अपने प्रतिद्वंदी प्रत्याशी जिससे उसे सीधा नुकसान हाेगा, उसे बिठाने का प्रयास करेंगे। इसके लिए मंगलवार काे बैठकें हाेगी। जगह-जगह पर हर तरह से प्रयास हाेगा कि प्रत्याशी काे बिठाया जाए ताकि जीत में काेई बाधा ना हाे।

कल नामांकन वापिस लिए जा सकेंगे

बुधवार काे पंचायताें में नामांकन काे वापिस लेने का दिन हाेगा। सुबह 11 से शाम 3 बजे तक प्रत्याशी पंचायताें में जाकर नाम वापिस ले सकेंगे। 3 बजे के बाद जाे प्रत्याशी नाम वापिस नहीं लेंगे उन्हें चुनाव मैदान में लड़ना ही हाेगा।

बुधवार काे इस बात का पता भी चल जाएगा कि पिछले कई दिनाें से जाे नेताओं और प्रत्याशियाें की अपनी प्रतिद्वंदियाें काे बिठाने काे लेकर उधेड़ बुन चल रही थी वह कितनी सफल हाे पाई है। क्याेंकि जिन प्रत्याशियाें काे नाम वापिस लेने के लिए बनाया है, अगर वे नाम वापिस लेते हैं ताे बचे हुए प्रत्याशी अपनी जीत मानकर चलेंगे। कई पंचायतें निर्विराेध भी चुनी जा सकती हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें