• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Shimla Was At The Top In The Living Index, But Our Councilors Went To Know The Skill Of Making Smart City, Gangtek, The City Of 41st Number

काम के नहीं सैर-सपाटे के फोटो वायरल:लिविंग इन्डेक्स में टाॅप पर रहा था शिमला, लेकिन हमारे पार्षद स्मार्ट सिटी बनाने का हुनर जानने गए 41वें नंबर के शहर गंगटाेक

शिमला9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
निगम के पार्षद जिस काम के लिए गए हैं उस काम के फोटो शेयर नहीं कर रहे। एयरपोर्ट, फ्लाइट के फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं। - Dainik Bhaskar
निगम के पार्षद जिस काम के लिए गए हैं उस काम के फोटो शेयर नहीं कर रहे। एयरपोर्ट, फ्लाइट के फोटो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं।

लिविंग इन्डेक्स में शिमला टाॅप पर रहा है। पूरे देश में शहर की खूबसूरती और लाइफ स्टाइल काे सराहा गया जबकि शिमला नगर निगम के पार्षद 41वें नंबर पर रहे सिक्किम केे गंगटाेक घूमने गए हैं। तर्क ये दिया जा रहा है कि वे यहां से स्मार्ट सिटी का हुनर सीखेंगे। जबकि अब सवाल उठ रहा है कि जिस सिक्किम के शहर की रैंकिंग फिसड्डी रही है, वहां से पार्षद क्या सीखेंगे। अभी पार्षदाें का टुअर शुरू ही हुआ है, लेकिन सैर सपाटे की फाेटाे अब साेशल मीडिया पर वायरल हाेने लगी है।

दिल्ली एयरपाेर्ट पर पार्षद बिना मास्क लगाए तस्वीरें पाेस्ट कर रहे हैं। ऐसे में सैर सपाटे पर पहले से ही लाेगाें ने सवाल उठाए थे, इस तरह से पार्षदाें के ऑफिशियल टुअर काे लेकर अब फिर से लाेगाें में राेष व्याप्त हाे गया है। टुअर पर शिमला नगर निगम के डिप्टी मेयर समेत कुल 21 पार्षद गए हुए हैं।

विचाराें के मतभेद के बावजूद भी भाजपा-कांग्रेस पार्षद टुअर पर जाने के लिए एकजुट हैं। मेयर, डिप्टी मेयर और पार्षदों के सिक्किम के एक्सपोजर टुअर को शहरी विकास मंत्री ने भी हरी झंडी दी है। शहर में अगले साल नगर निगम के चुनाव होने प्रस्तावित हैं। इसलिए अधिकतर पार्षद बाहरी राज्य के शहराें काे घूमकर आना चाहते हैं।

ऐसे टुअर पर निकले पार्षद और डिप्टी मेयर:
बीते वीरवार काे पार्षद अपने छह दिवसीय दौरे पर सिक्किम टुअर पर निकल गए। शिमला से पार्षद कालका के लिए ट्रैवलर के माध्यम से निकले। उसके बाद कालका से दिल्ली के लिए शताब्दी एक्सप्रेस में रवाना हुए। उसके बाद शुक्रवार को हवाई मार्ग से सीधे गंगटोक के लिए उड़ान भरी। जहां थ्री स्टार होटल में पार्षद ठहरेंगे। सिक्किम की राजधानी गंगटोक में छह दिनाें तक पार्षद रहेंगे। यहां पर वह सफाई व्यवस्था से लेकर पानी और नगर निगम गंगटोक के स्मार्ट सिटी के कार्यों की जानकारी लेंगे।

एक साल पहले ख्तम हाे चुके फंड से गएः एक साल पहले समाप्त हो चुके जेएनएनयूआरएम फंड के तहत नगर निगम शिमला के पार्षदों का दौरा कोरोनाकाल से पहले ही तय हो चुका था, लेकिन कोरोना वायरस के चलते यह दौरा करीब दाे साल तक टाला गया। अब एक बार फिर कोरोनावायरस में मिली छूट के चलते एमसी शिमला ने यह दौरा बनाया है, जिसमें करीब 21 पार्षद जाने काे तैयार हुए जबकि इन पार्षदों के साथ दो अधिकारी भी इस दौरे में गए, बाकी 19 पार्षदाें ने इस दौरे से निजी कारणों से जाने से इनकार कर दिया। नगर निगम में कुल 34 पार्षद हैं। छह मनोनीत पार्षद है।

ये पार्षद हैं टुअर परः डिप्टी मेयर शेलेंद्र चाैहान के अलावा पार्षद, आरती चाैहान, कुसुम सदरेट, सुनील धर, संजीव ठाकुर, जसविंद्र सिंह, राजेंद्र चाैहान, अर्चना धवन, रचना भारद्वाज, किमी सूद, पूरन मल, राकेश चाैहान, कमलेश मेहता, रेणु चाैहान, तनुजा चाैधरी, शारदा चाैहान, दिवाकर देव शर्मा, राकेश शर्मा, आशा शर्मा, सुषमा कुठियाला, बिट्टू कुमार पाना, जगजीत सिंह बग्गा टुअर पर गए हुए हैं।

खबरें और भी हैं...