• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • The Health Department Team Is Monitoring The Health Of The Children, The Parents Are Adamant On Taking The Children Along, The Administration Is Waiting For The Report, Then Action Will Be Taken

CMO मंडी पहुंचे बोर्डिंग स्कूल का जायजा लेने:स्वास्थ्य विभाग की टीम कर रही कोरोना संक्रमित बच्चों की निगरानी; अभिभावक साथ ले जाने पर अड़े, प्रशासन को रिपोर्ट का इंतजार

शिमला9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बोर्डिंग स्कूल, जिसमें पढ़ रहे बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। - Dainik Bhaskar
बोर्डिंग स्कूल, जिसमें पढ़ रहे बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला प्रशासन ने जिले के बोर्डिंग स्कूलों में बच्चों के कोरोना संक्रमित होने के बाद कार्रवाई तेज कर दी है। उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी ने शिक्षा विभाग से रिपोर्ट तलब की है, जिसमें उन्होंने कहा है कि शिक्षा विभाग जांच कर बताए कि क्या इस स्कूल में एसओपी का पालन हुआ है, क्योंकि स्कूल में एसओपी का पालन करवाना प्रिंसिपल समेत स्कूल प्रबंधन की जिम्मेदारी है।

फिलहाल जिला प्रशासन शिक्षा विभाग की रिपोर्ट का इंतजार कर रहा है, इसके बाद अगली कार्रवाई की जाएगी। वहीं जिला प्रशासन की ओर से मंडी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को मौके पर भेजा गया है। उन्होंने स्कूल में स्थिति का जायजा लिया। अब वे प्रशासन को अपनी रिपोर्ट देंगे, क्योंकि शिक्षा सचिव राजीव शर्मा की ओर से उपायुक्त मंडी से स्थिति की जानकारी मांगी गई है।

अभिभावक कर रहे बच्चों को साथ ले जाने की डिमांड

उपायुक्त मंडी का कहना है कि अभिभावक बच्चों को साथ ले जाने की डिमांड कर रहे हैं। फिलहाल अभी बच्चों को यहां से ले जाने नहीं दिया जा सकता, क्योंकि बच्चों की वजह से और लोगों के भी संक्रमित होने का खतरा बना हुआ है। उन्होंने कहा कि अभी सभी बच्चों की हालत ठीक है। उनमें केवल माइल्ड लक्षण मिले थे। इसलिए सभी को आइसोलेट किया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर मौजूद है और हर स्थिति पर निगरानी रखे हुए है। जैसे ही सीएमओ की रिपोर्ट आएगी, उसके बाद आगामी निर्णय लिया जाएगा।

स्वास्थ्य विभाग की 3 सदस्य टीम कर रही दिन में चेकिंग

स्वास्थ्य विभाग की 4 सदस्य टीम दिन में तीन बार बच्चों की चेकिंग कर रही है, जो स्वास्थ्य को लेकर पल-पल का अपडेट हेल्थ डिपार्टमेंट को भी दे रही है। इस टीम में एक डॉक्टर, एक सुपरवाइजर, एक एएनएम और एक आशा वर्कर है। बच्चों की ऑक्सीजन लेवल से लेकर बुखार समेत अन्य सब तरह की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। टीम का भी कहना है कि सभी बच्चों की हालत अभी स्थिर है। स्थिति अभी कंट्रोल में है।

हिमाचल के सभी जिलों के बच्चे यहां पर पढ़ते हैं

बता दें कि बोर्डिंग स्कूल में 9वीं से 12वीं तक के बच्चों को निशुल्क पढ़ाई करवाई जाती है। यहां पर लाहौल स्पीति, किन्नौर, मंडी, चंबा, शिमला, सिरमौर, कांगड़ा से बच्चे पढ़ रहे हैं। ऐसे में प्रशासन को यही चिंता लगी हुई है कि अगर अभिभावक अपने बच्चों को साथ ले जाते हैं तो कई लोगों के संक्रमित होने का भी खतरा बना हुआ है।

लापरवाही की बात पर उपायुक्त बोले- रिपोर्ट आने के बाद करेंगे कार्रवाई

उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी का कहना है कि अभी वह इस संबंध में कुछ नहीं कहेंगे। सबसे पहले प्राथमिकता बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर है, फिलहाल स्थिति कंट्रोल में है, लेकिन शिक्षा विभाग से रिपोर्ट तलब की गई है। इसमें यह देखना है कि क्या स्कूल ने एसओपी की पालना की है या नहीं। जिस तरह के दिशा निर्देश बोर्डिंग स्कूल खोलने पर दिए गए थे, क्या उन्होंने उसकी पालना की है या नहीं। जिस तरह की रिपोर्ट शिक्षा विभाग की ओर से उन्हें मिलेगी, उसी तरह की आगामी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...