पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • The Prime Minister Congratulated The People For Getting The First Place In Corona Vaccination, Said Himachal Champion Against The Biggest Epidemic In 100 Years

कोरोना वैक्सीनेशन में हिमाचल चैंपियन:PM मोदी ने प्रदेशवासियों को बधाई दी; कहा- 100 सालों में सबसे बड़ी महामारी को हराया, अब ऑर्गेनिक खेती के प्रोत्साहन में सहयोग करें

शिमला18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचलवासियों से बातचीत करते हुए। - Dainik Bhaskar
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचलवासियों से बातचीत करते हुए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को हिमाचर प्रदेश में 100 प्रतिशत लोगों को वैक्सीनेशन लगने पर प्रदेशवासियों को बधाई दी। वर्च्अली बात करते हुए मोदी ने कहा- 100 साल में सबसे बड़ी महामारी के खिलाफ हिमाचल चैंपियन बनकर सामने आया है। 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन में हिमाचल भारत का पहला राज्य बना है। इस राज्य में पूरी आबादी को पहली डोज लगा दी गई है, जबकि यहां की एक तिहाई आबादी को भी दूसरा डोज लग चुका है। उम्मीद है हिमाचल दूसरी डोज लगाने में भी नंबर वन बनेगा। मोदी ने कहा कि हिमाचल में एक टीम की भांति सरकार, अधिकारियों, कर्मचारियों और लोगों ने मिलकर काम किया है। इसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं। इस दौरान मोदी ने वैक्सीनेशन के लाभार्थियों से बात की।

ग्रामीण देवी-देवताओं में ज्यादा आस्था
प्रधानमंत्री ने कहा कि हिमाचल का ज्यादातर हिस्सा ग्रामीण है। यहां के देवी-देवताओं में लोगों की ज्यादा आस्था है। कुल्लू का मलाणा, जिसने लोकतंत्र को दिशा और ऊर्जा दी, वह अपने आप में एक मिसाल है। इसके अलावा हिमाचल का लाहौल स्पीति जिला, जो सबसे दुर्गम क्षेत्रों में आता है, सबसे पहले वहां पर 100 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन लगी। यह भी अपने आप में लोगों की कर्तव्यनिष्ठा को दर्शाता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोगों के साथ बातचीत करते हुए।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोगों के साथ बातचीत करते हुए।

हिमाचल के लोगों ने नहीं किया अफवाहों पर गौर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना वैक्सीन आने के बाद अफवाहों का दौर शुरू हो गया था। तरह-तरह की बातें सामने आ रही थीं। वैक्सीन से यह परेशानी होगी या इस तरह की परेशानी होगी। लेकिन हिमाचल के लोगों ने अफवाहों पर ध्यान न देते हुए टीका लगवाने में रुचि दिखाई और इसी बात का यह प्रमाण है कि आज हिमाचल देश में पहले नंबर पर है। जहां पर सभी लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है।

टूरिज्म सेक्टर को भी मिलेगा बढ़ावा
प्रधानमंत्री ने कहा कि हिमाचल टूरिज्म का राज्य है। जहां पर लोग ज्यादातर घूमना पसंद करते हैं। ऐसे में वैक्सीन लगने के बाद हिमाचल में टूरिज्म सेक्टर को भी काफी बढ़ावा मिलेगा। लोग अब हिमाचल की ओर ज्यादा रुख करेंगे। इससे हिमाचल का टूरिज्म सेक्टर ग्रोथ करेगा और युवाओं को भी रोजगार के बेहतर अवसर प्राप्त होंगे। कोविड के दौरान टूरिज्म सेक्टर पूरी तरह से बैठ गया था, लेकिन जिस तरह से हिमाचल ने वैक्सीन में रुचि दिखाई है, टूरिज्म सेक्टर जल्द ही फिर से उभर कर सामने आएगा।

ऑर्गेनिक खेती को प्रोत्साहित करने के लिए हिमाचल के लोगों का मांगा साथ
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जिस तरह से हिमाचल के लोगों ने वैक्सीनेशन को लेकर केंद्र का साथ दिया है। उसी तरह वह एक और साथ हिमाचल के लोगों से चाहते हैं। आने वाले 25 सालों में क्या हम हिमाचल की खेती को ऑर्गेनिक कर सकते हैं, क्योंकि हमें धीरे-धीरे अपने खेतों से केमिकल को हटाना है। हमारे खेत और बच्चे केमिकल फ्री हो सकें। उन्होंने युवाओं से आश्वासन मांगा कि इस मामले में वह केंद्र का साथ दें और आने वाले 25 सालों तक हिमाचल की भूमि को ऑर्गेनिक बनाएं। वह इसलिए ऐसा कह रहे हैं क्योंकि हिमाचल ने वैक्सीनेशन में भी बेहतर कार्य किया है।

हिमाचल प्रदेश में वैक्सीन लगवाते लोग।
हिमाचल प्रदेश में वैक्सीन लगवाते लोग।

ड्रोन टेक्नोलॉजी से हिमाचल को भी मिलेगा लाभ
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र ने ड्रोन टेक्नोलॉजी को भी खासा आसान बना दिया है। वह हिमाचल के लोगों से इस बात को इसलिए साझा कर रहे हैं, क्योंकि यहां से उनका अलग ही लगाव है। मंडी जिला की मंडयाली धाम को वह मिस करते हैं। ड्रोन कैमरे की मदद से लोगों के घरों तक दवाइयां पहुंचाने, बाग-बगीचों की रखवाली करने, जमीन का सर्वे करने समेत अन्य कई तरह के कार्य किए जा सकते हैं। हिमाचल के लोगों को परेशानी आती है, इसलिए वहां पर ड्रोन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। यही नहीं सरकारी कार्यों में भी ज्यादा से ज्यादा इस टेक्नोलॉजी को इस्तेमाल होना चाहिए, ताकि आपदा के समय लोगों को राहत व बचाव कार्य पहुंचाने में दिक्कत न हो।

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म बनाने जा रही सरकार, घर बैठे बैच सकेंगे प्रोडक्ट
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार ऑनलाइन प्लेटफॉर्म बनाने जा रही है, जिसमें घर बैठे-बैठे महिलाएं अपने प्रोडक्ट देश-विदेश और राज्यों में बेच सकती हैं। इसके तहत 1 लाख करोड़ रुपए का एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर बनाया गया है, जिसका काम यही होगा। क्योंकि हिमाचल के जंगलों और खेतों में उगने वाली जड़ी बूटियों समेत संतरा, मशरूम, सेब समेत अन्य तरह के उत्पादों की भारी डिमांड है। ऐसे में यहां के लोगों की आर्थिकी सुदृढ़ हो सकेगी।

हिमाचल को छोटी-छोटी सुविधाओं के लिए संघर्ष करते हुए खुद देखा
पीएम मोदी ने कहा कि हिमाचल में प्रधान सेवक के रूप में उन्हें गौरवान्वित होने का अवसर मिला है, क्योंकि यहां की आबादी एक टीके के साथ वैक्सीनेट हो चुकी है। हिमाचल को उन्होंने छोटी-छोटी सुविधाओं के लिए संघर्ष करते हुए देखा है, लेकिन जिस तरह से आज हिमाचल तरक्की की राह पर अग्रसर है। यह देखकर उन्हें बहुत खुशी होती है। यह सब हिमाचल के देवी-देवताओं के आशीर्वाद, जनता की जागरूकता और सरकार के सहयोग से ही पूरा हो पाया है। हिमाचल एक टीम के रूप में काम करता है। चाहे यहां की सरकार हो या जनता हो या सरकारी अफसर सभी मिलजुल कर काम करते हैं।

सिराजियो के जिम्मे प्रदेश की बागडोर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की बागडोर सिराजियों के जिम्मे है, क्योंकि जब वह मंडी जिला के सिराज क्षेत्र के दयाल सिंह से बातचीत कर रहे थे तो उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी सिराज से ही है। ऐसे में हिमाचल का जिम्मा सिराजियों ने उठा रखा है और यह अच्छी बात है। वहीं उन्होंने कहा कि मंडी आना उन्हें अच्छा लगता है। मंडयाली धाम को वह हमेशा मिस करते हैं।

खबरें और भी हैं...