अर्की:दाड़लाघाट में ट्रक ऑपरेटरों ने बैठक में ढलियारा में सीमेंट डंप का किया विरोध

शिमला2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • अंबुजा कंपनी की मनमानी को बिल्कुल भी नहीं करेंगे बर्दाश्त: सुशील

शिव मंदिर दाड़लाघाट में बुधवार को अंबुजा सीमेंट कंपनी में कार्यरत ट्रक ऑपरेटरों की संयुक्त बैठक गोल्डन लैंड लूजर के पूर्व प्रधान सुशील ठाकुर की अध्यक्षता में हुई। इस बैठक में कंपनी द्वारा ढलियारा में खोले गए सीमेंट डंप का विरोध किया। बैठक में सभी ट्रक सहकारी सभाओं के सदस्यों ने संयुक्त रूप से कहा कि अंबुजा कंपनी हमारी मां है हम इसका घाटा नहीं चाहते है।

वहीं वह कंपनी प्रबंधन के लोगों की मनमानी भी वो बर्दाश्त नहीं करेंगे। कंपनी की मैनेजमेंट में बैठे कुछ लोग अर्की क्षेत्र के ऑपरेटरों को तबाह कर निजी ट्रांसपोर्ट शुरू करने के लिए साजिश रच रहें है, लेकिन वो इस बात को गांठ बांध लें कि ऑपरेटरों को ऐसे लोगों को सबक सिखाने का पुराना अनुभव है। कंपनी ऑपरेटरों को गुमराह कर रही है।

उनके ढुलाई कार्य पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन डंप की वजह से डिमांड पर भारी असर पड़ने वाला है। कंपनी से हुए समझौते के मुताबिक रोपड़ से वापसी खत्म हो जाएगी और क्लिंकर की डिमांड पर भारी असर पड़ेगा। समझौते के तहत कंपनी पिछले 6 साल से सालाना हक को भी नहीं दे रही है जबकि आज तेल के रेट आसमान छू रहे है। ऑपरेटर अपने अधिकारों के प्रति जागरूक है और इसे हासिल करना अच्छी तरह से जानते है।

अगली बैठक 14 को: बैठक में सर्वसम्मति से अगली बैठक 14 सितंबर को 11 बजे आयोजित करने का फैसला लिया। इस बैठक में अगली रणनीति तैयार की जाएगी। कंपनी दाड़लाघाट में कार्यरत सभी ट्रक सहकारी सभाओं के काम को तबाह करने की फिराक में है क्योंकि यही उपयुक्त समय है। इस मौके पर पूर्व प्रधान बाघल लैंड लूजर राम कृष्ण शर्मा, अनिल गुप्ता, जगदीश ठाकुर, नीलम भारद्वाज, किशोरी भारद्वाज, सुमन गुप्ता, हेमराज ठाकुर, बंटू शुक्ला, हरीश भारद्वाज, हुक्म चंद समेत अन्य सभाओं के ट्रक ऑपरेटर मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...