पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संक्रमण का कहर:आईजीएमसी में कोरोना से दो की मौत, 46 और संक्रमित

शिमला3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आईजीएमसी में कोरोना से वीरवार को दो मरीजों की मौत हुई है। किन्नौर के 31 वर्षीय व्यक्ति को 24 मई को आईजीएमसी में एडमिट किया गया था। 10 जून को दोपहर बाद 3:25 पर मरीज की मौत हो गई। हालांकि 8 जून को मरीज की आरटीपीसीआर रिपोर्ट निगेटिव आई थी लेकिन तबीयत खराब थी और वीरवार को मौत हो गई।

करसोग के भी 60 के व्यक्ति की आईजीएमसी में कोरोना से मौत हुई है। इसके अलावा जिले में कोरोना के 46 नए मरीज आए हैं। इसमें रामपुर से 12, नेरवा से 8, रोहड़ू से 7, आईजीएमसी से 4, कनलोग और मशोबरा से 3-3, सोलन से 2, जबकि नवबहार, नाभा, कुफ्टाधार, ओल्ड बस स्टैंड, मिलिट्री अस्पताल, जुब्बल कोटखाई और सुन्नी से एक-एक मरीज आया है। सीएमओ शिमला डॉक्टर सुरेखा चोपड़ा ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वह कोरोना नियमों का पालन करें ताकि कोरोना को पूरी तरह से खत्म किया जा सके।

डीसी की होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों से बात, तनाव से दूर रहने की सलाह

जिला रेड क्रॉस सोसाइटी अध्यक्ष एवं उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमण के रोगियों के लिए संक्रमण के दौरान और संक्रमण के बाद की जाने वाली देखभाल के संबंध में वीरवार को वेबिनार आयोजित किया गया। उन्होंने बताया की 1 घंटे की अवधि के इस वेबिनार में डॉ. पूजा बेदी ने कोरोना रोगियों को इस दौरान पनपने वाली मानसिक परेशानियों से बचने के संबंध में जानकारी दी।

उन्होंने इस दौरान अवसाद, तनाव अकेलापन और मानसिक रूप से विचलित होने से उबरने के लिए विभिन्न आवश्यक जानकारियां दी गई। उन्होंने लोगों के मन में टीकाकरण के प्रति उभर रही शंकाओं को दूर करने के लिए उनसे विस्तृत रूप से बातचीत कर उनके निवारण किया और टीकाकरण के प्रति लोगों को प्रोत्साहित को प्रेरित किया। वेबीनार में एडीएम लॉ एंड ऑर्डर प्रभा राजीव और सचिव जिला रेडक्रॉस बलवीर जिलटा भी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...