बैठक में निर्णय:काैशल याेजना के तहत 140 युवाओं काे 28 ट्रेडाें का दिया जाएगा प्रशिक्षण

शिमला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना के तहत वर्ष 2021-22 में 140 प्रशिक्षणार्थियों को जिला शिमला के 12 विकास खंडाें में 28 ट्रेडों में प्रशिक्षण दिया जाएगा। याेजना की बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने कहा इस योजना की अवधि ट्रेड अनुसार 3 से 6 माह तक की होगी। इस दौरान प्रशिक्षाणार्थियों को प्रशिक्षण कार्यक्रम अवधि के आधार पर 3 हजार रुपए प्रतिमाह प्रदान किए जाएंगे।

इस राशि में से 75 प्रतिशत राशि पाठ्यक्रम की अवधि के दौरान और शेष 25 प्रतिशत राशि प्रशिक्षण अवधि पूर्ण होने पर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना का मुख्य उद्देश्य क्षमता निर्माण, पारंपरिक कौशल को आधुनिक/सामायिक बनाना, पारंपरिक शिल्पकारों और दस्तकारों की पहचान करना, युवाओं को इन कलाओं/कौशलों को सीखने के लिए प्रेरित करना, प्रशिक्षण प्रदान करना और विभिन्न माध्यमों से बाजार से संपर्क स्थापित करवाना है।

इन कलाओं और शिल्पों में बुनाई, कढ़ाई, टोपियां और अन्य ऊनी वस्त्रों, धातु एवं लकड़ी का काम, चित्रकारी, थंगका चित्रकारी, टोकरी बनाना और मिट्टी के बर्तन बनाना आदि कार्य शामिल है। उन्होंने जिला शिमला के सभी विकास खंड अधिकारियों को भी निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में प्रशिक्षित लाभार्थियों को प्रशिक्षण के उपरांत अपना व्यवसाय करने के लिए प्रेरित करें।

इस अवसर पर परियोजना अधिकारी डीआरडीए संजय भगवती, जिला पंचायत अधिकारी विजय बरागटा, यूको बैंक के मैनेजर अंकुश चौहान, सहायक पंजीयक अधिकारी सहकारी सभाएं गौरव चैहान, जिला भाषा अधिकारी अनिल हारटा और विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...