कोरोना टीकाकरण:31 मई तक वैक्सीनेशन शेड्यूल नहीं बदला ताे सीएमओ ऑफिस के बाहर दूंगा धरना

शिमला6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नहीं लगाऊंगा गाड़ी में झंडीः सिंघा

18 से 44 आयुवर्ग के लिए काेराेना वैक्सीनेशन पर अनियमितताओं के आराेप काे लेकर ठियाेग के विधायक और माकपा नेता राकेश सिंघा ने अनिश्चितकालीन धरने पर बैठने की चेतावनी दी है। उन्हाेंने कहा कि अगर 31 मई तक वैक्सीनेशन शेड्यूल काे नहीं बदला गया ताे वह सीएमओ ऑफिस के बाहर धरने पर बैठेंगे और यह धरना तब तक जारी रहेगा, जब तक वैक्सीनेशन का सिस्टम दुरुस्त नहीं हाे जाता।

मंगलवार काे शिमला में आयाेजित प्रेसवार्ता में राकेश सिंघा ने कहा कि काेराेना वैक्सीनेशन में 18 से 44 आयुवर्ग के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जिलाभर में 27 सेंटर खाेले हैं। इसमें 12 सेंटर शहर के आसपास हैं जबकि ग्रामीण एरिया में जहां पर गरीब लाेग, मजदूर और अन्य पिछड़ा वर्ग रहता है, वहां के लाेगाें काे वैक्सीनेशन से पूरी तरह से वंचित कर दिया है।

उन्हाेंने कहा कि कई लाेग जाे सरकार में वह यह प्राेपेगेंडा करेंगे कि धरने के अलावा यह विधायक कुछ नहीं जानता है। मगर गरीब लाेगाें काे न्याय दिलाने के लिए मेरे पास काेई और रास्ता नहीं है। चाैपाल, कुपवी और सैंज तक के एरिया में मात्र एक ही वैक्सीनेशन सेंटर खाेला गया है।

उन्हाेंने सरकार पर आराेप लगाया कि मात्र 2700 डाेज अगर जिला में रखी जाएगी ताे सरकार कभी भी वैक्सीनेशन काे अचीव नहीं कर पाएगी। 2023 वे पहले यह संभव नहीं हाे सकता, लिहाजा सरकार काे वैक्सीनेशन काे बढ़ाना पड़ेगा। विधायकाें काे गाड़ी में झंडी दिए जाने पर विधायक राकेश सिंघा ने विराेध करते हुए कहा कि मै झंडी नहीं लगाऊंगा।

उन्हाेंने कहा कि जिस कमेटी ने यह निर्णय लिया है मैं उस कमेटी का हिस्सा नहीं हूं। बहुत से एमएलए अपनी गाड़ी में एमएलए लिखते हैं, पीएसओ रखे गए हैं, मगर मैंने आज तक यह सब भी नहीं किया है।

खबरें और भी हैं...