हेल्थ वर्कर के लिए राहत:फ्रंट लाइन में काम करने वालाें के लिए टीकाकरण की हाेगी अतिरिक्त व्यवस्था

शिमला6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने बुधवार काे फ्रंट लाइन में कार्य कर रहे विभागीय अधिकारियों के साथ कोविड-19 टीकाकरण के संबंध में बैठक की। उपायुक्त ने बताया कि शिमला शहर में फ्रंट लाइन में कार्य कर रहे प्रत्येक विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की संख्या सौ से अधिक होने के कारण उनके टीकाकरण के लिए अतिरिक्त विशेष कोविड-19 टीकाकरण केंद्र स्थापित किए जा रहे है ताकि फ्रंट लाइन में कार्य करने वालों के साथ साथ अन्य लोगों को भी टीकाकरण की सुविधा सुनिश्चित की जा सके।

उन्होंने बताया कि शिमला शहर में एचआरटीसी के चालक व परिचालक, दवा विक्रेता और बैंक व वित्तीय सेवाऐं दे रहे कर्मचारियों के टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर विशेष टीकाकरण केंद्र बनाए जा रहे है ताकि टीकाकरण के दौरान भीड़-भाड़ इकट्ठी न हो।

शिमला शहर के अलावा जिला के अन्य क्षेत्रों में कर्मचारी भी अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र में विभाग द्वारा जारी प्रमाण पत्र के साथ जाकर अपना टीकाकरण करवा सकते है। उन्होंने बताया कि पूरे जिले के फ्यूल पंप ऑपरेटर मंगलवार व शुक्रवार को अपने प्रमाण पत्र के साथ नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जाकर टीकाकरण करवा सकते है, वहीं पीडीएस डिपों होल्डर और लोकमित्र केंद्र का स्टाॅफ बुधबार और शनिवार को अपने प्रमाण पत्र के साथ नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जाकर टीकाकरण करवा सकते है।

उन्होंने बताया कि बाल देखभाल संस्थानों में कार्यरत कर्मचारी अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में टीकाकरण कर सकते है। उन्होंने बताया कि फ्रंट लाइन में कार्य कर रहे कर्मचारियों के लिए विभाग द्वारा प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा जिसमें एचआरटीसी के चालक व परिचालकों को क्षेत्रीय प्रबंधक एचआरटीसी द्वारा, फ्यूल पंप ऑपरेटर एवं पीडीएस डिपो होल्डरों को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निरीक्षक द्वारा, लोक मित्र केंद्र के स्टाफ को सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा, बाल देखभाल केंद्र कर्मचारियों को महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे।

उन्होंने विभागीय अधिकारियों को शिमला शहर के तहत कार्य कर रहे सभी कर्मचारियों की सूची जल्द से जल्द स्वास्थ्य विभाग को भेजने के निर्देश दिए ताकि आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा सके। इस अवसर पर एलडीएम एके सिंह, एचआरटीसी के मंडलीय प्रबंधक दलजीत सिंह, क्षेत्रीय प्रबंधक अमित शर्मा, जिला नियंत्रक, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग पूर्ण चंद, जिला कार्यक्रम अधिकारी बंदना चाैहान, जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. मुनीष सूद आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...