• Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Wife Had Killed Her Lover With 3 Children And Her Husband, After 14 Days The Police Solved The Matter, The Incident Happened On September 14 In Churah Subdivision Of Chamba

चंबा में इश्क की डरावनी कहानी:प्रेमी के साथ मिलकर महिला ने 3 बच्चों और पति को जलाकर मारा, सब समझते रहे हादसा; 14 दिन बाद हुआ बड़ा खुलासा

शिमला/चंबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हिमाचल के चंबा जिले में हुए अग्निकांड में बड़ा खुलासा हुआ है। घटना में जान गंवाने वाले शख्स की पत्नी ने ही अपने प्रेमी के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। बच्चों की मां का गांव के ही जमात अली के साथ प्रेम प्रसंग था। वो दोनों साथ में रहना चाहते थे। जिसके बाद दोनों ने मिलकर पहले प्लान बनाया। उसके बाद घर में आग लगाई जिससे की वो सभी रास्ते से हट जाएं और किसी को शक भी ना हो।

प्यार के लिए पति और 3 बच्चों की हत्या
14 सितंबर को चुराह उपमंडल के करातोट गांव के घर में आग लगने से 3 बच्चों और पिता की मौत हो गई थी। सभी इसे एक हादसा समझ रहे थे। जिसमें सिर्फ पत्नी बच गई थी। जिसे अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया था। महिला ने अपने पति मोहम्मद रफी उम्र 26 साल, सबसे बड़े बेटे पुत्र जैतून उम्र 6 साल, उससे छोटे बेटे समीर उम्र 4 साल और सबसे छोटी बेटी जुलेखा उम्र डेढ़ साल को बड़ी चालाकी से मौत के घाट उतार दिया।

डेढ़ से 6 साल के बच्चों पर भी मां को दया नहीं आई।
डेढ़ से 6 साल के बच्चों पर भी मां को दया नहीं आई।

जमात अली करना चाहता था भूरा से शादी
शादी से पहले युवक महिला को प्यार करता था और उसके साथ शादी करना चाहता था, लेकिन महिला की शादी मोहम्मद रफी से हो गई। इसके बाद आरोपी जमात अली (24) लगातार महिला मृतक की पत्नी भूरा (26) से बात करता रहता था और कहता था कि वह उसे छोड़कर उसके पास आ जाए। पुलिस पूछताछ में महिला ने बताया कि जमात अली उससे यह भी कहता था कि इसके पास क्या है, मेरे पास इससे ज्यादा भेड़-बकरियां है और में इससे ज्यादा अमीर हूं, में तुझे प्यार भी करता हूं तो इन सब को छोड़कर मेरे पास आजा हम इकट्ठे रहेंगे। आरोपी युवक दो तीन बार गांव में भी आया और महिला से भी बात की। अभी पुलिस दोनों के बीच किसी तरह के अवैध संबंध होने का भी मना कर रही है। युवक का यह भी कहना है कि महिला ने ही उससे कहा था कि वह पूरे परिवार को खत्म कर दे, ताकि दोनों साथ रह सके।

बच्चों और पिता की मौत के बाद विलाप करते परिवार के लोग।
बच्चों और पिता की मौत के बाद विलाप करते परिवार के लोग।

दोनों एक दूसरे पर लगा रहे हैं मारने का आरोप
पुलिस पूछताछ में दोनों ही एक-दूसरे पर हत्या का आरोप लगाते रहे। बताया जा रहा है कि पहले कुल्हाड़ी से सभी की हत्या की गई। पुलिस कुल्हाड़ी को सबसे बड़ा हथियार मान कर चल रही है। क्योंकि यही से असली हत्यारे का पर्दाफाश होगा। कुल्हाड़ी को फिंगर प्रिंट्स की जांच के लिए फॉरेंसिक लैब में भेज दिया गया हैं, जैसे ही यहां से रिपोर्ट आएगी दोनों आरोपियों के फिंगर प्रिंट का मिलान किया जाएगा। जांच में यह पता चला है कि युवक महिला को वहां से जगा कर बाहर ले गया, जिससे वह बच गई। वहीं पुलिस ने आईपीसी की धारा 201 को भी जोड़ा है। जिसमें सबूत नष्ट करने का मामला भी है।

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से हुआ खुलासा
चारों के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों को शक हुआ। जिसके बाद बारीकी से जांच की गई तो ये खुलासा हुआ कि चारों की मौत जलने से नहीं हुई ये एक हत्या की ओर इशारा कर रही थी। जिसके बाद पुलिस ने महिला से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सब उगल दिया। पुलिस ने मृतक के पिता के बयान दर्ज किए जिसके बाद मृतक की पत्नी भूरा और करातोट गांव के जमात अली को गिरफ्तार किया। आरोपियों को शनिवार को कोर्ट में पेश किया गया था जिसके बाद ही ने 4 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया था।

एक युवक ने की थी बचाने की कोशिश
जिस वक्त घर में आग लगी उस वक्त एक युवक वहां मौजूद था। उसने घर की खिड़की तोड़कर लोगों को बचाने की कोशिश की। जिसके बाद आसपास के लोग भी जमा हो गए और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। लेकिन तब तक चारों की मौत हो चुकी थी। मृतक के परिवार को शक हुआ था उन्होंने मामले में निष्पक्ष जांच की मांग उठाई थी।

खबरें और भी हैं...